Sunday , February 18 2018

पाकिस्तान को सामने आकर लड़ने की हिम्मत नहीं : नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लद्दाख में दो प्रोजेक्ट का इफ्तेताह करने के लिए मंगल के रोज़ सुबह लेह पहुंचे। उन्होंने यहां पर एक पनबिजली प्रोजेक्ट का इफ्तेताह किया। साथ ही पीएम ने यहां एक आवामी जलसा से भी खिताब किया। मोदी यहां पर जवा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लद्दाख में दो प्रोजेक्ट का इफ्तेताह करने के लिए मंगल के रोज़ सुबह लेह पहुंचे। उन्होंने यहां पर एक पनबिजली प्रोजेक्ट का इफ्तेताह किया। साथ ही पीएम ने यहां एक आवामी जलसा से भी खिताब किया। मोदी यहां पर जवानों से मिले। इस मुलाकात में उन्होंने पाक पर छठी जंग करने का भी इल्ज़ाम लगाया। बाद में पीएम एक और प्रोजेक्ट का इफ्तेताह करने कारगिल पहुंचे।

लेह में रिवायती तरीके से पीएम का इस्तेकबाल किया गया। यहां पर मोदी लद्दाख की रिवायती पोशाक में दिखाई दिए। उन्होंने यहां पर निम्मो बाजगो पनबिजली प्रोजेक्ट का इफ्तेताह कर इन्हें मुल्क को वक्फ किया। उन्होंने यहां पर जवानों से भी मुलाकात में कहा कि पाकिस्तानी दहशतगर्दों की आड़ में हिंदुस्तान से छठी जंग लड़ रहा है, क्योंकि सामने आकर लड़ने की उसकी हिम्मत नहीं है।

तकरीर में उन्होंने कश्मीर को दिया गया साठ करोड़ रुपये का कर्ज माफ करने का भी ऐलान किया की। मंच पर उनके साथ जम्मू-कश्मीर के सीएम उमर अब्दुल्ला समेत रियासत के गवर्नर , यूनियन पावर मिनिस्टर पीयूष गोयल भी मौजूद थे। लेह में मोदी ने तीन पी का नारा दिया। ये तीन पी हैं, Light, Environment and Tourism । पीएम ने कहा कि तीन पी की ताकत को जमीन पर उतारना होगा। उन्होंने कहा कि लेह में जो ख्वाब अटल बिहारी वाजपेयी ने देखा था, उसे हम पूरा करने की कोशिश कर रहे हैं।

अपनी तकरीर में उन्होंने कहा कि वह भाजपा के कारकुन के तौर पर पहले भी कई बार यहां आए हैं। इस तकरीर में उन्होंने साबिक की यूपीए हुकूमत और साबिक पीएम मनमोहन सिंह पर भी तंज़ किया। उन्होंने कहा कि साबिक के वज़ीर ए आज़म यहां पर कभी कभी ही आते थे।

लेकिन अब वक्त बदल गया है और दो माह में दूसरी बार उनका यहां पर आना हुआ है। पीएम ने कहा कि जो प्यार यहां मिला है उस कर्ज को ब्याज के साथ चुकाएंगे और इस इलाके की तरक्की की हर मुम्किना कोशिश करेंगे। उन्होंने कहा कि इस प्रोजेक्ट के बाद यहां का इलाका खुद की रोशनी से रोशन होगा।

वज़ीर ए आज़म नरेंद्र मोदी ने बजट में हिमालय के इलाके के लिए किए गए इंतजाम की भी जानकारी इजलास के दौरान दी। उन्होंने यहां के Saffron growers के लिए सैफ्रॉन रिवोल्यूशन शुरू करने की भी बात कही है। उन्होंने कहा कि लद्दाख को पूरे मुल्क और दुनिया से जोड़ना हुकूमत का मकसद है। मोदी ने लद्दाख में सोलर पावर के लिए सबसे बेहतर जगह बताया। उन्होंने कहा कि इस बजट में दुनिया भर में मशहूर कश्मीर का पश्मीना के लिए 83 प्रोजेक्ट शुरू करने की बात भी कही।

इसके बाद पीएम जवानों से भी मिलने पहुंचे। उन्होंने वहां कहा कि पाक दहशतगर्दों की आड़ में छठी जंग लड़ रहा है। क्योंकि सामने आकर लड़ने की उसकी न तो सलाहियत है और न ही उसमें इतनी ताकत है। गौरतलब है कि लेह दौरे की वजह से उनका आज होने वाला सियाचिन का प्रोग्राम रद कर दिया गया था। इसके बाद सियाचिन में तैनात फौजी अहलकारो व आफीसरों के एक दस्ते को पीएम से मुलाकात के लिए यहीं पर बुलवा लिया गया था।

TOPPOPULARRECENT