Saturday , July 21 2018

पाकिस्तान में दो ईसाइयों की हत्या के विरोध में लोगों का प्रदर्शन

पाकिस्तान के बलूचिस्तान सूबे में एक गिरजाघर के निकट चार अज्ञात बंदूकधारियों ने ईसाई समुदाय के दो लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी , जिसके विरोध में ईसाई समुदाय के नेताओं ने प्रदर्शन किया। सूबे के पुलिस प्रमुख मोअज्जम जाह अंसारी ने बताया कि ईसाइयों का एक समूह जब कल गिरजाघर से बाहर निकल रहा था , तभी पास की सड़क से दो मोटरसाइकिलों पर सवार चार बंदूकधारी वहां पहुंचे और उन पर गोलियां चलानी शुरू कर दीं।

उन्होंने बताया , ‘‘ दो लोगों की घटनास्थल पर ही मौत हो गयी जबकि छह अन्य जख्मी हो गये। घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया। ’’ मृतक की पहचान अजहर मसीह और रोहेल मसीह के तौर पर हुई है। ये सभी एस्सा नगरी के रहने वाले थे , जहां ईसाई समुदाय की बड़ी आबादी रहती है। इस हमले की जिम्मेदारी आतंकवादी समूह इस्लामिक स्टेट ने ली है।
अंसारी ने कहा कि ऐसा प्रतीत होता है कि हमले का मकसद सूबे में तनाव और डर फैलाना था। उन्होंने कहा , ‘‘ सूबे में इन आतंकवादियों के खिलाफ चल रहे अभियान के चलते लोगों में तनाव और डर पैदा करने के इरादे से ये आतंकवादी सुरक्षा बलों और अब अल्पसंख्यकों को निशाना बना रहे हैं। ’’ ईसाई समुदाय ने सूबे की सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया और हमलावरों की तुरंत गिरफ्तारी की मांग करते हुए सरकार से क्वेटा में ईसाई समुदाय के तमाम सदस्यों के लिये सुरक्षा मुहैया कराने का अनुरोध किया।

TOPPOPULARRECENT