Monday , December 11 2017

पाकिस्तान में फौजी हुक्मरानी के खिलाफ हूं: इमरान खान

पाकिस्तान के साबिक क्रिकेटर इमरान खान ने अपनी हुकूमत मुखालिफ मुज़ाहिरो के ज़रिये मुल्क में फौजी हुक्मरानी के लिए रास्ता तैयार करने की अटकलों को रोकने की कोशिश करते हुए कहा कि फौजी हुक्मरानी मुल्क के मसले का हल नहीं है |

पाकिस्तान के साबिक क्रिकेटर इमरान खान ने अपनी हुकूमत मुखालिफ मुज़ाहिरो के ज़रिये मुल्क में फौजी हुक्मरानी के लिए रास्ता तैयार करने की अटकलों को रोकने की कोशिश करते हुए कहा कि फौजी हुक्मरानी मुल्क के मसले का हल नहीं है |

पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी के चीफ का कहना है कि वह मुल्क में फौजी हुक्मरानी की कभी ताईद नहीं करेंगे. इमरान ने प्रेस कांफ्रेस के दौरान कहा, ‘फौजी हुक्मरान मुल्क के मसलो का हल नहीं है. हम किसी तरह के तशद्दुद नहीं चाहते हैं |’

उन्होंने वज़ीर ए आज़म नवाज शरीफ पर इल्ज़ाम लगाया कि वह फौजी मुदाखिलत का डर दिखाकर आवाम को एहतिजाजी मुज़ाहिरा में शामिल होने से रोकना चाहते हैं | इमरान ने नवाज की बराबरी मिस्र के तानाशाह हुस्नी मुबारक के साथ की उन्होंने कहा कि फौज को शामिल करने का कोई वजह नजर नहीं आता क्योंकि पुर अमन तरीके से मुज़ाहिरा करना सभी का आईनी हक है |

इमरान ने कहा कि ब्रिटेन में हजारों की तादाद में लोग फिलिस्तीन की ताईद में मुज़ाहिरा कर रहे हैं लेकिन किसी को फौजी मुदाखिलत का डर नहीं है | उन्होंने मुल्क को बचाने वाले पुर अमन मुज़ाहिरा का वादा किया |

TOPPOPULARRECENT