Friday , November 24 2017
Home / Islami Duniya / पाकिस्तान में हिंदू मैरेज बिल को मिली पार्लिमानी बोर्ड की मंजूरी

पाकिस्तान में हिंदू मैरेज बिल को मिली पार्लिमानी बोर्ड की मंजूरी

लाहोर : सालों के इंतजार के बाद आखिरकार पाकिस्तान में हिंदू अक्लियती कम्युनिटी के लिए वहां की पार्लिमेंट निकाह कानून मुहैया कराने जा रही है. हिंदू बिल मैरिज को पाकिस्तान के एक पार्लीमेंटी पैनल ने मंजूरी दी है. यह बिल दशकों से लटका पड़ा था और सरकार इसे लेकर सुस्त रवैया अपना रही थी.

लॉ एंड जस्टिस के लिए बनाई गई नेशनल असेंबली स्टैंडिंग कमेटी ने सोमवार को हिंदू मैरिज बिल 2015 का ड्राफ्ट फाइनल कर दिया. इसके लिए खासकर पांच हिंदू कानून साज़ों को बुलाया गया था.

एक पाकिस्तानी अखबार की रिपोर्ट के मुताबिक, लगातार हो रही देरी के बीच कमेटी ने बिल को मुत्तफ़िक़ा से मंजूरी दी है. इसमें औरत और मर्द दोनों के लिए शादी की कम से कम उम्र 18 साल रखी गई है. यह कानून पूरे देश में लागू होगा.

बिल को अब नेशनल असेंबली में पेश किया जाएगा जहां इसके पास होने की पूरी उम्मीद है क्योंकि हुक्मरां पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (PML-N) पार्टी इसके हिमायत में है. कमेटी के चेयरमैन चौधरी महमूद बशीर विर्क ने हिंदू कम्युनिटी के लिए कानून बनाने में हुई देरी के लिए अफ़सोस जताया. उन्होंने कहा, ‘हमें लोगों की जिम्मेदारी है कि लोगों की सहूलत के लिए कानून मुहैया कराया जाए न कि उसकी राह में रुकावट बनें. अगर हम 99 फीसदी आबादी के लोग महज एक फीसदी लोगों से डरेंगे तो हमें गहराई में जाकर सोचने की जरूरत हैा कि हम क्या होने का दावा कर रहे हैं और असलियत में क्या हैं.’

TOPPOPULARRECENT