Friday , December 15 2017

पाकिस्तान से एफ डी आई को हिंदूस्तान की इजाज़त : आनंद शर्मा

हिंद - पाक के दरमयान बेहतर होते मआशी ताल्लुक़ात को देखते हुए हिंदूस्तान ने आज कहा कि वो पाकिस्तान से बैरूनी रास्त सरमाया कारी की हिंदूस्तान में इजाज़त देगा ताकि उभरते हिंदूस्तानी मार्केट में पड़ोसी मुल़्क की तिजारत में बेहतरी हो। म

हिंद – पाक के दरमयान बेहतर होते मआशी ताल्लुक़ात को देखते हुए हिंदूस्तान ने आज कहा कि वो पाकिस्तान से बैरूनी रास्त सरमाया कारी की हिंदूस्तान में इजाज़त देगा ताकि उभरते हिंदूस्तानी मार्केट में पड़ोसी मुल़्क की तिजारत में बेहतरी हो। मर्कज़ी वज़ीर कॉमर्स-ओ-सनअत आनंद शर्मा ने उन के हम मंसब मख़दूम अमीन फ़हीम से यहां बातचीत के बाद इन ख़्यालात का इज़हार करते हुए कहा कि हिंदूस्तान ने पाकिस्तान को बैरूनी रास्त सरमाया कारी के फ़ैसला की इजाज़त तिजारती बहाली इक़दाम के तौर पर किया।

उन्होंने कहाकि इस ज़िमन में तरीका-ए-कार को बहुत जल्द क़तईयत दी जाएगी। उन्होंने कहा कि दोनों ममालिक में बैंकों की ब्रांच के आग़ाज़ के लिए बातचीत जारी है। जबकि आर बी आई और स्टेट बैंक आफ़ पाकिस्तान ब्रांच के आग़ाज़ के हक़ में है। मख़दूम अमीन फ़हीम ने कहा कि दोनों जानिब के बैंकिंग ख़िदमात के हुसूल में काफ़ी पेशरफ़्त हुई है। इस पर रजामंदी का दोनों जानिब से इज़हार किया गया। मौजूदा तौर पर हिंद – पाक अश्या-ए-ज़रुरीया की तिजारत में मसरूफ़ हैं। बताया गया कि कई पाकिस्तानी सनअतें और बैंक्स हिंदूस्तान में तिजारत के आग़ाज़ में दिलचस्पी रखती हैं और ये सिर्फ़ बैरूनी रास्त सरमाया कारी पालिसी के ज़रीया मुम्किन है।

TOPPOPULARRECENT