Sunday , December 17 2017

पाकिस्तान से ज़्यादा हिन्दुस्तान में मुहब्बत आफ़रीदी को क़ानूनी नोटिस

लाहौर 15 मार्च: शाहिद आफ़रीदी को मुल्क से ग़द्दारी करने और पाकिस्तानीयों के जज़बात को थेस पोहचने के इल्ज़ाम में अदालत में खींच लिया गया। एक दिन पहले उन्होंने अपने बयान में कहा था कि पाकिस्तानी क्रिकेट टीम हिन्दुस्तान में पाकिस्तान की बनिसबत ज़्यादा मुहब्बत हासिल करती है। एक सीनीयर वकील ने 36 साला पाकिस्तानी क्रिकेट कप्तान के हिन्दुस्तान के बारे में बयान पर जो वर्ल्ड टी 20 टूर्नामेंट से पहले दिया गया है क़ानूनी नोटिस जारी कर दी। वकील अज़हर सादिक़ ने कहा कि क़ानूनी नोटिस के मतन से वो मुत्तफ़िक़ हैं। उन्होंने नोटिस की एक नक़ल पीटीआई को भी फ़राहम की है।

वकील ने कहा कि आफ़रीदी ने पूरी पाकिस्तानी क़ौम को पाकिस्तान की बनिसबत हिन्दुस्तान से ज़्यादा मुहब्बत का इज़हार करते हुए शर्मिंदा किया है। दरहक़ीक़त उन्होंने ग़द्दारी कि है अब कौन इस बात को यक़ीनी बनाएगा कि हिन्दुस्तान के शहर कोलकता में पाकिस्तानी टीम टी ।20 मैच में कामयाबी हासिल करने के लिए खेलेगी।

एक प्रेस कांफ्रेंस से ख़िताब करते हुए आफ़रीदी ने कहा था कि उन्हें कहीं भी खेलने में इतना मज़ा नहीं आता जितना कि हिन्दुस्तान में खेलने से आता है। ये उनके कैरीयर का आख़िरी मरहला है और वो कह सकते हैके उन्हें हिन्दुस्तान में जो मुहब्बत हासिल हुई है उसे वो हमेशा याद रखेंगे।

उन्हें पाकिस्तान में इतनी मुहब्बत हासिल नहीं हुई।अज़हर सादिक़ ने कहा कि ख़ुदा ना करे पाकिस्तान को हिन्दुस्तान के ख़िलाफ़ मैच में शिकस्त हो जाएगी तो फिर आफ़रीदी के मुवाफ़िक़ हिंद बयान की बिना उन्हें कभी माफ़ नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि पीसीबी को नजम सेठी के रोल की भी तहक़ीक़ात करनी चाहीए। हो सकता है उन्होंने आफ़रीदी को एसा कहने के लिए तैयार कियाहो क्युं कि वो हमेशा हिन्दुस्तानी की ताईद करते हैं। ये क़ानूनी नोटिसें आफ़रीदी और सेठी की घर रवाना की गई हैं।

TOPPOPULARRECENT