Saturday , December 16 2017

पाकिस्तान से वार्ता के लिए पहल की जाए केंद्र सरकार को सीपीआई की सलाह

नई दिल्ली: भारत- पाक संबंधों में बिगाड़ पर चिंता-झिझक व्यक्त करते हुए भाकपा ने आज सरकार से कहा है कि इस्लामाबाद के साथ वार्ता की पहल के लिए संभावित चैनलस‌ खोले जाएं ताकि सीमा पार से आतंकवाद की रोकथाम सुनिश्चित बनाया जा सके। वामपंथी दल ने बताया कि सीमा पार आतंकवादियों के ठिकानों पर भारतीय सेना के हमले अपरिहार्य हो गए थे और सुनियोजित कार्रवाई सराहनीय है। भाकपा केंद्रीय सचिवालय ने एक पत्रकारिता बयान में कहा कि उड़ी (कश्मीर) घटना के बादहिन्द।

पाक संबंधों में निरंतर सुधार चिंताजनक हो गई है क्योंकि पाकिस्तान विशेषकर उसके सशस्त्र बलों अपनी विदेश नीति को सफलता दिलाने के लिए ‘आतंकवाद’ का रणनीति अपनाने रहे हैं। लेकिन विवाद का समाधान खोजने में आपसी बैर सभी रास्ते बंद कर देगी। भाकपा ने सरकार से आग्रह किया है कि सीमा पर तनाव को खत्म करने के लिए कूटनीतिक और राजनीतिक स्तर पर पहल की जाए और पाकिस्तान के साथ वार्ता शुरू करने के लिए संभावित चैनल्स का दोहन लाया जाए।

TOPPOPULARRECENT