Wednesday , July 18 2018

पाकिस्तान 19 वर्षों में पहली बार जनगणना आयोजित करने के लिए तैयार

पाकिस्तान 19 सालो में पहली बार अपने देश में जनगणना आयोजित कर रहा है । यह जनगणना बुधवार से शुरू होगी और इसमें 200000 सैनिक अपनी सहायता प्रदान करेंगे ।

सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल ‘आसिफ गफ़ूर’ और सूचना राज्य मंत्री ‘मारियुरम औरंगजेब’ ने एक संयुक्त सम्मेलन को संबोधित करते हुए छठी जनगणना की तैयारी के बारे में बताया। यह  जनगणना दो चरणों में आयोजित की जाएगी और 25 मई को पूरी हो जाएगी।

“राष्ट्रीय जनगणना बुधवार से आयोजित की जाएगी। जनगणना 200000 सैनिको की सहायता से आयोजित की जाएगी”, ग़फूर ने बताया ।

उन्होंने कहा,कम से कम एक सैनिक प्रत्येक नागरिक गणक के साथ घर से घर जायेगा ताकि वहां के घरो और उन घरो में रहने वाले व्यक्तियों की संख्या प्राप्त कर सकें।

सैनिक न केवल सुरक्षा प्रदान करेंगे बल्कि गणक द्वारा एकत्र किए गए आंकड़ों के सत्यापन में भी सहायता करेंगे।

औरंगजेब ने कहा कि आबादी और आवास जनगणना के लिए प्रशासनिक और सुरक्षा व्यवस्था की गई है।

“जनगणना में भाग लेने वाले नागरिक कर्मचारियों की संख्या 118918 है। वे सभी विभिन्न विभागों में काम करेने वाले सरकारी कर्मचारी हैं और इस काम के लिये पूरी तरह प्रशिक्षित हैं “,औरंगजेब ने कहा।

उन्होंने कहा कि जनगणना का पहला चरण 15 मार्च से शुरू होगा और 15 अप्रैल को समाप्त होगा। दस दिन के अंतर के बाद दूसरा चरण 25 अप्रैल से शुरू होकर 25 मई को समाप्त होगा। इस जनगणना के लिए 18.5 अरब रुपये आवंटित किए गए हैं।

राज्य मंत्री ने कहा, “जनगणना का आयोजन सही स्थानों पर धन और अन्य संसाधनों के उचित आवंटन में मदद करेगा। गलत जानकारी देने पर 6 महीने की कैद और 50000 रुपये का जुर्माने का भी प्रावधान किया गया है।”

TOPPOPULARRECENT