Wednesday , June 20 2018

पाक में सिफारतकारों को सलाह, घरों में रहें

पाकिस्तान के हालात इतने खराब हो गए हैं कि वहां के वज़ारत ए खारेजा को गैर मुल्की सिफारतकारों से कहना पड़ा है कि वे अपने घरों से ज्यादा न निकलें और अपनी सरगर्मियां कम कर दें।

पाकिस्तान के हालात इतने खराब हो गए हैं कि वहां के वज़ारत ए खारेजा को गैर मुल्की सिफारतकारों से कहना पड़ा है कि वे अपने घरों से ज्यादा न निकलें और अपनी सरगर्मियां कम कर दें।

पाक मीडिया के मुताबिक, पाकिस्तान के वजारत ए खारेजा ने सलाह दी है कि गैर मुल्की डिप्लोमेट, ट्रेड मिशन और बैनुल अकवामी तंज़ीमों के मुलाज़्मीन घर या दफ्तर के बाहर अपनी सरगर्मिया कम कर दें, यह उनकी सेक्युरिटी के लिए जरूरी है। इतना ही नहीं, उनसे कहा गया है कि वे बेवजह बडे मॉल वगैरह में तब तक न जाएं जब तक वज़ारत उन्हें इसकी सलाह न दे, यानी वे ऐसी किसी जगह पर न जाएं जहां खतरा हो।

खत में यह भी कहा गया है कि एक सिक्योरिटी एजेंसी से मिली सूचइत्तेला की बुनियाद पर यह सलाह दी जा रही है। इसका मतलब हुआ कि दहशतगर्द ऐसे लोगों को अपना निशाना बना सकते हैं। उसमें कहा गया है कि इस खत पर डिप्लोमैट तथा गैर मुल्की मुलाज़्मीन पूरी तरजीह के साथ ध्यान दें। पाकिस्तान के कराची शहर में हाल ही में हवाई अड्डे पर जबर्दस्त हमला हुआ था। कराची इन दिनों तालिबानियों का बहुत बडा गढ बन गया है और वे वहां सख्त पहरे के बावजूद दहशतगर्दाना कार्रवाइयां करने से बाज नहीं आ रहे हैं।

TOPPOPULARRECENT