Wednesday , December 13 2017

पागलखाने से 10 क़ैदी फ़रार

एर्रागड्डा मेंटल हॉस्पिटल से रात देर गए तक़रीबन 10 ज़ेर दरयाफ़त क़ैदी फ़रार होने में कामयाब होगए। ऑक्सीजन गैस सिलेंडर की मदद से दीवार में सुराग करते हुए इन क़ैदीयों ने राह फ़रार इख़तियार की। ताहम चंद घंटों की कड़ी मशक़्क़त के बाद पुलिस ने 8

एर्रागड्डा मेंटल हॉस्पिटल से रात देर गए तक़रीबन 10 ज़ेर दरयाफ़त क़ैदी फ़रार होने में कामयाब होगए। ऑक्सीजन गैस सिलेंडर की मदद से दीवार में सुराग करते हुए इन क़ैदीयों ने राह फ़रार इख़तियार की। ताहम चंद घंटों की कड़ी मशक़्क़त के बाद पुलिस ने 8 क़ैदीयों को दुबारा गिरफ़्तार करलिया ताहम मज़ीद चार क़ैदी पुलिस की गिरिफ़त से बाहर हैं।

बताया जाता हैके कल रात देर गए क़ैदीयों ने मंसूबा बंद तरीके से ये कार्रवाई अंजाम दी। एर्रागड्डा मेंटल हॉस्पिटल के मेल वार्ड की एक दीवार में सुराग करते हुए क़ैदी फ़रार होगए।

बावसूक़ ज़राए के मुताबिक़ एक क़ैदी की बीवी कल मुलाक़ात के लिए आई थी जिस के बाद ये कार्रवाई अंजाम दी गई और क़ैदी जो पुलिस की गिरिफ़त से बाहर है अपनी बीवी के साथ फ़रार होगया।

कल रात पेश आए इस वाक़िये के बाद जो सेक्यूरिटी गार्ड्स की मौजूदगी में पेश आया। शहर भर में पुलिस ने रैड अलर्ट कर दिया था और शहर से बाहर जाने वाले हर रास्ते पर नाका बंदी करदी गई थी बस सटानड रेलवे स्टेशन, पार्कस और बड़े तफ़रीही मुक़ामात के अलावा बैरून-ए-रयासत रवाना होने वाली ख़ानगी बसों के मुक़ामात पर सख़्त चौकसी इख़तियार करली गई थी।

क़ैदीयों की ज़हनी हालत ख़राब होने के सबब उन्हें एर्रागड्डा मेंटल हॉस्पिटल मुंतक़िल किया गया था जहां उन का ईलाज जारी था। जिन क़ैदीयों को गिरफ़्तार करलिया गया इन में कनकया, नागा राजू, गोपाल और बालिया शामिल हैं। जबकि जीवा रत्नम, तर विमलेश, बासित हुसैन, फ़हीम उद्दीन और सुवामी हनूज़ पुलिस की गिरिफ़त से बाहर हैं।

पुलिस की तरफ फ़रार क़ैदीयों की शिद्दत से तलाश जारी है। डी सी पी वैस्ट ज़ोन सत्य ना रावना ने बताया कि पुलिस ने 8 क़ैदीयों को गिरफ़्तार करलिया और तीन की तलाश जारी है।

उन्होंने बताया कि इस साज़िश में शामिल ख़ातून को हिरासत में ले लिया गया है जबकि असल सरग़ना क़ुरेशी पुलिस की गिरिफ़त से बाहर है जो अपनी बीवी के साथ फ़रार होगया।

TOPPOPULARRECENT