Monday , December 18 2017

पार्टी को बचाने चीफ मिनिस्टर की तबदीली ज़रूरी

हाल ही में रियासत में कांग्रेस पार्टी के मौक़िफ़ और हुकूमत की कारकर्दगी का जायज़ा लेने वाले हाईकमान के क़ासिदों और मुबस्सरीन पर रियासत के कांग्रेस क़ाइदीन ने वाज़ेह कर दिया कि अगर यहां बरसर-ए-इक्तदार पार्टी को अपने सियासी ज़वा

हाल ही में रियासत में कांग्रेस पार्टी के मौक़िफ़ और हुकूमत की कारकर्दगी का जायज़ा लेने वाले हाईकमान के क़ासिदों और मुबस्सरीन पर रियासत के कांग्रेस क़ाइदीन ने वाज़ेह कर दिया कि अगर यहां बरसर-ए-इक्तदार पार्टी को अपने सियासी ज़वाल से बचना है तो फिर चीफ मिनिस्टर मिस्टर एन किरण कुमार रेड्डी को फ़ौरी तौर पर तब्दील किया जाना चाहीए ।

चाहे ये ग़ुलाम नबी आज़ाद होँ या मिस्टर के ई कृष्णा मूर्ती होँ या फिर फ़िलहाल रियासत का दौरा कर रहे मर्कज़ी वज़ीर मिस्टर वेलार रवी होँ सभी से कांग्रेस क़ाइदीन ने इसरार के साथ कहा कि अगर रियासत में कांग्रेस को इस की हालत में सुधार लाना है तो फिर चीफ मिनिस्टर मिस्टर किरण कुमार रेड्डी को इस ओहदा पर बरक़रार रहने की इजाज़त नहीं दी जानी चाहीए ।

ग़ुलाम नबी आज़ाद कृष्णा मूर्ती और मिस्टर वेलार रवी को हाईकमान ने रियासत में पार्टी और हुकूमत की हालत का जायज़ा लेने के लिए रवाना किया था । हैदराबाद में गुज़शता दो दिन क़ियाम के दौरान मिस्टर वेलार रवी को चीफ मिनिस्टर के ख़िलाफ़ कई शिकायात मौसूल हुई हैं । इन में कुछ वुज़रा अरकान पार्ल्यमेंट के ग्रुप ( तेलंगाना से ताल्लुक़ रखने वाले ) बेशुमार अरकान असेंबली और सिनयर पार्टी क़ाइदीन की नुमाइंदगीयाँ भी शामिल थीं और उन का कहना था कि चीफ मिनिस्टर के ओहदा से मिस्टर किरण कुमार रेड्डी को बेदखल किया जाना चाहीए ।

मिस्टर रवी को ये वाज़ेह पयाम दिया गया है कि आंधरा प्रदेश में कांग्रेस को जो चीज़ सब से ज़्यादा नुक़्सान पहूँचा रहा है वो क़ियादत का फ़ुक़दान और बोहरान है । कहा गया है कि कुछ रियासती क़ाइदीन ने मिस्टर रवी से शिकायत की कि मिस्टर किरण कुमार रेड्डी पार्टी में ग्रुप बंदियों को हवा दे रहे हैं और एक एसे वक़्त में इलाक़ा वारी इम्तियाज़ बरता जा रहा है जब पार्टी को तेलंगाना मसला पर संगीन बोहरान का सामना है ।

इलाक़ा तेलंगाना की नुमाइंदगी करने वाले अरकान पार्ल्यमेंट ने मिस्टर वेलार रवी को मिसाल पेश की कि चीफ मिनिस्टर की जानिब से आंधरा और राइलसेमा इलाक़ों में जिन हलक़ा जात असेंबली में ज़िमनी इंतेख़ाबात होने वाले हैं वहां ख़ुसूसी फ़ंडज़ जारी किए जा रहे हैं जबकि तेलंगाना में भी गुज़शता दिनों ज़िमनी इंतेख़ाबात हुए थे लेकिन इन हलक़ों के लिए किसी तरह के फ़ंडज़ जारी नहीं किए गए ।

ये इलाक़ाई इम्तियाज़ की मिसाल है । पार्टी क़ाइदीन ने मिस्टर रवी से शिकायत की कि चीफ मिनिस्टर किरण कुमार रेड्डी और सदर प्रदेश कांग्रेस मिस्टर बी सत्य नारायना के माबेन इख़तिलाफ़ात की वजह से भी पार्टी को ज़बरदस्त नुक़्सान हो रहा है । कहा गया है कि जब एक सिनयर रियासती वज़ीर ने मिस्टर रवी से मुलाक़ात करके शिकायत की कि चीफ मिनिस्टर अहम पॉलीसी उमूर पर भी यकतरफ़ा फैसले कर रहे हैं तो मिस्टर रवी ने उन्हें कमगो क़रार दिया ।

TOPPOPULARRECENT