Tuesday , December 12 2017

पार्टी में किसी ओहदे का लालच नहीं- राबडी

चार घोटाला से जुडे एक मामले में रांची की सीबीआई की खुसुसि अदालत की तरफ से मुजरिम करार दिए जाने के बाद राजद सरबराह लालू प्रसाद को जेल भेजे जाने के बाद उनकी बीवी राबडी देवी के पार्टी की कियादत संभालने की कयास के दरमियान आज राबडी ने वा

चार घोटाला से जुडे एक मामले में रांची की सीबीआई की खुसुसि अदालत की तरफ से मुजरिम करार दिए जाने के बाद राजद सरबराह लालू प्रसाद को जेल भेजे जाने के बाद उनकी बीवी राबडी देवी के पार्टी की कियादत संभालने की कयास के दरमियान आज राबडी ने वाज़ेह कर दिया कि उन्हें किसी ओहदे का लालच नहीं है।

पटना में आज मीडिया से बात करते हुए राबडी ने कहा कि उन्हें किसी ओहदे का लालच नहीं है और न ही कोई ओहदा कबुल करेंगी। उन्होंने कहा कि आवाम को आने वाले 22 वंबर का इंतजार है जिस दिन वज़ीरे आला नीतीश कुमार, शिवानंद तिवारी और राजीव रंजन उर्फ ललन सिंह को लेकर सीबीआई की अदालत चारा घोटाला से जुडे एक मले में सुनवाई करेगी।

बिहार की साबिक़ वज़ीरे आलिया राबडी ने कहा कि इन तीनों को क्यों छोडा गया और उस दिन अदालत क्या फैसला सुनाती है यह हमें और बिहार की आवाम को देखना है।

TOPPOPULARRECENT