Monday , December 18 2017

पार्लियामेंट से सदर का ख़िताब वलवला अंगेज़ नहीं: सी पी आई

नई दिल्ली, 22 फ़रवरी: पार्लियामेंट के मुशतर्का इजलास से सदर जमहूरिया परनब मुकर्जी के ख़िताब को जोश वो व‌लव‌ला से आरी क़रार देते हुए सी पी आई ने आज कहा कि हुकूमत ने एतराफ़ किया है, कि मईशत इन्हितात पज़ीर है, लेकिन इस ने इस का कोई हल पेश नहीं क

नई दिल्ली, 22 फ़रवरी: पार्लियामेंट के मुशतर्का इजलास से सदर जमहूरिया परनब मुकर्जी के ख़िताब को जोश वो व‌लव‌ला से आरी क़रार देते हुए सी पी आई ने आज कहा कि हुकूमत ने एतराफ़ किया है, कि मईशत इन्हितात पज़ीर है, लेकिन इस ने इस का कोई हल पेश नहीं किया। सी पी आई के क़ौमी सेक्रेटरी डी राजा ने कहा कि सदर जमहूरिया की तक़रीर में अवाम को तहरीक देने या इस में जोश-ओ-वलवला पैदा करने वाली कोई बात नहीं है।

हुकूमत ने मआशी इन्हितात एतराफ़ करलिया है, लेकिन बोहरान दूर करने के लिए कोई तजवीज़ पेश नहीं की। हुकूमत नहीं जानती कि इस से कैसे निमटा जाये। उन्होंने कहा कि हुकूमत ने सिर्फ़ साबिक़ स्कीम्स और प्रोग्राम्स को यकजा कर दिया है। कोई ताज़ा स्कीम या प्रोग्राम का ऐलान नहीं किया गया। उन्होंने कहा कि वो अवाम को इसी तरह मज़ीद धोका नहीं दे सकते।

अवाम हक़ीक़त से वाक़िफ़ हैं और मर्कज़ी हुकूमत बेनकाब होगई है। महंगाई के ताल्लुक़ से अवाम हुकूमत से नाराज़ हैं। क़ीमतों में बेतहाशा इज़ाफे ने अवाम की कमर तोड़ दी है। सदर जमहूरिया के ख़िताब में मईशत को बेहतर बनाने के लिए ऐसी कोई ठोस तजवीज़ पेश नहीं की गई जिस से अवाम तवक़्क़ो करसकें कि महंगाई पर क़ाबू पाया जाएगा।

TOPPOPULARRECENT