पार्सल में ट्रॉली का खेल

पार्सल में ट्रॉली का खेल
टाटानगर पार्सल ऑफिस की मिलीभगत से स्टेशन पर ट्रॉली कारोबार का खेल एक साल से चल रहा था। इसका खुलासा बुध को रेलवे विजिलेंस टीम की औचक मुआइना से हुआ है। दो रुक्नी टीम ने टाटानगर में गैर कानूनी तौर से काम 37 ट्रॉली मालिकों पर तीन लाख रुप

टाटानगर पार्सल ऑफिस की मिलीभगत से स्टेशन पर ट्रॉली कारोबार का खेल एक साल से चल रहा था। इसका खुलासा बुध को रेलवे विजिलेंस टीम की औचक मुआइना से हुआ है। दो रुक्नी टीम ने टाटानगर में गैर कानूनी तौर से काम 37 ट्रॉली मालिकों पर तीन लाख रुपये से ज़्यादा का जुर्माना लगाया है। साथ ही पार्सल सुपरवाइजर (पार्सल अफसर) के अमल का जिक्र करते हुए डिवीजन और जोनल दफ्तर को कार्रवाई की सिफ़ारिश करते हुए एक रिपोर्ट भेजी है।

एक साल से ट्राली का काम

जानकारी के मुताबिक टाटानगर स्टेशन में गुजिशता एक साल से तीन दर्जन से ट्रॉली काम कर रही थी, जिसमें रेल इंतेजामिया ने पांच सौ रुपये महीना हर एक ट्रॉली का भाड़ा तय किया था, लेकिन ट्रॉली मालिक भाड़ा दिये बगैर एक साल से कारोबार कर रहा था, जिससे रेलवे को नुकसान हो रहा था।

ट्रॉली जब्त करने की सिफ़ारिश

टीम ने 37 ट्रॉली को जब्त करने की सिफ़ारिश आरपीएफ से की है। इसके लिए रेल पुलिस को भी मदद करने का कहा है।

Top Stories