Friday , December 15 2017

पासपोर्ट इन्क्वारी को शफ़्फ़ाफ़ और करप्शन से पाक बनाने की मुहिम

हैदराबाद 10 दिसंबर: हैदराबाद सिटी पुलिस के स्पेशल ब्रांच (एसबी) की तरफ् से पासपोर्ट दरख़ास्तों के वेरीफिकेशन को करप्शन से पाक बनाने के लिए किए गए इक़दामात के मुसबित नताइज बरामद हुए हैं।

आला ओहदेदारों की तरफ से स्पेशल ब्रांच अमला की कारकर्दगी में शफ़्फ़ाफ़ियत पैदा करने और ज़िम्मेदारी आइद करने के बाद रिश्वतखोरी में ज़बरदस्त कमी वाक़्ये हुई है। सरकारी ज़राए के बमूजब हैदराबाद स्पेशल ब्रांच यूनिट की तरफ से हर माह 10 हज़ार से ज़ाइद पासपोर्ट दरख़ास्तों की तन्क़ीह की जाती है और इस काम को करप्शन से पाक बनाने के लिए कमिशनर पुलिस हैदराबाद एम महिन्द्र रेड्डी ने बाज़ हिदायात जारी किए थे।

सिटी पुलिस के आई टी सेल की तरफ से पासपोर्ट दरख़ास्त गुज़ारों से इन्क्वारी ऑफीसर से मुताल्लिक़ मालूमात-ओ-राय हासिल की गई थी जिसमें करप्शन में कमी का पता चला। जारीया साल अगसट सितम्बर में 10 हज़ार पासपोर्ट दरख़ास्तों की तन्क़ीह की गई थी और 4,365 दरख़ास्त गुज़ारों से उनकी राय (सिटीज़न फीड बयाक) हासिल की गई थी।

इन्क्वारी ऑफीसर की तरफ से रक़म की वसूली, नाशाइस्ता बरताव, दरख़ास्त गुज़ारों की तरफ से रुकमी इनाम हासिल करना, दरख़ास्त गुज़ार के मकान पहूंचने से पहले इत्तेला ना करने से मुताल्लिक़ अवामी राय हासिल की गई। 966 अफ़राद ने अपना मनफ़ी रद्द-ए-अमल ज़ाहिर किया।

अवामी राय हासिल करने के दौरान इस बात का पता चला हैके 72 इन्क्वारी ऑफीसरस ने पासपोर्ट दरख़ास्त गुज़ारों से रक़म का मुतालिबा किया जो मनफ़ी अवामी राय का 1.6 फ़ीसद है।

नागी रेड्डी ने बताया कि पासपोर्ट दरख़ास्तों के वेरिफिकेशन के लिए 60 अफ़राद पर मुश्तमिल ख़ुसूसी टीम तशकील दी गई है जो सिर्फ पासपोर्ट दरख़ास्तों की तन्क़ीह का काम करती है। उन्होंने कहा कि हालिया अवामी राय से ये ज़ाहिर होता हैके पासपोर्ट तन्क़ीह का काम अब शफ़्फ़ाफ़ हो गया है और करप्शन से पाक है।

TOPPOPULARRECENT