Monday , May 21 2018

पासपोर्ट में तारीख़-ए- पैदाइश की तबदीली हुक्काम की ज़िम्मेदारी

नई दिल्ली 7 नवंबर (पी टी आई) दिल्ली हाईकोर्ट ने रोलिंग दी है कि पासपोर्ट हुक्काम क़ानूनी तौर पर एक शहरी की तारीख़-ए- पैदाइश को इस के पासपोर्ट में दरुस्त करने य ज़िम्मेदारी रखते हैं। अगर पासपोर्ट में तारीख़-ए- पैदाइश का ग़लत इंदिराज ह

नई दिल्ली 7 नवंबर (पी टी आई) दिल्ली हाईकोर्ट ने रोलिंग दी है कि पासपोर्ट हुक्काम क़ानूनी तौर पर एक शहरी की तारीख़-ए- पैदाइश को इस के पासपोर्ट में दरुस्त करने य ज़िम्मेदारी रखते हैं। अगर पासपोर्ट में तारीख़-ए- पैदाइश का ग़लत इंदिराज हुआ है तो उसे बदल दिया जाई। सियोल जज अशीष अग्रवाल ने ये फ़ैसला दिया जबकि वज़ारत ख़ारिजी उमूर और पासपोर्ट ऑफ़िस को हिदायत दी कि वे एक शहरी के पासपोर्ट में तारीख़-ए- पैदाइश को दरुस्त कहा जाय ये अहकाम सियोल लाइंस के सदर सालार अहमद की अपील पर जारी गए गए हैं जिन्हों ने पासपोर्ट हुक्काम की जानिब से उन पर जुर्माना आइद करने को चैलेंज किया था। उन्हों ने अपने नए पासपोर्ट में अपनी तारीख़-ए- पैदाइश को दरुस्त करने की दरख़ास्त की तिथि क्योंकि पुराना पासपोर्ट गुम होने के बाद वो नया पासपोर्ट हासिल कररहे थी। अदालत ने कहा कि दरख़ास्त गुज़ार को ये हक़ है कि वो अपने पासपोर्ट में अपनी तारीख़-ए- पैदाइश को दरुस्त करले।

TOPPOPULARRECENT