Wednesday , July 18 2018

पिछले 24 घंटो के दौरान उत्तर पश्चिमी भारत में आए आंधी तूफान का प्रभाव अगले दो दिनों तक जारी रहने की संभावना

पिछले 24 घंटो के दौरान उत्‍तराखंड, पूर्वी उत्‍तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल और सिक्किम, नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा के ज्‍यादातर स्‍थानों, हिमाचल प्रदेश, तटीय और भीतरी कर्नाटक, छत्‍तीसगढ़ और केरल के कई जगहों, ज्‍म्‍मू कश्मीर, पश्चिमी उत्‍तर प्रदेश, हरियाणा, चंडीगढ़ और दिल्‍ली, पूर्वी मध्‍यप्रदेश, ओडिशा, उत्‍तर भीतरी कर्नाटक तथा रायलसीमा के कुछ स्‍थानों तथा पंजाब,पश्चिमी मध्‍यप्रदेश, तेलंगाना, तटीय आंध्रप्रदेश, असम और मेघालय, मध्‍य महाराष्‍ट्र, लक्ष्‍यद्वीप और अंडमान निकोबार द्वीप समूह के एक आध स्‍थानों पर तेज हवाओं के साथ आंधी तूफान का प्रकोप रहा।

मौसम का मौजूदा हाल और भविष्‍यवाणी  :  

पाकिस्‍तान और निकटवर्ती अफगानिस्‍तान के उपर क्षोभमंडल स्‍तर पर पश्चिमी विक्षोभ बना हुआ है। अगले 48 घंटो के दौरान इसके पूर्व दिशा में बढ़ने की संभावना है।

मध्‍यवर्ती पाकिस्‍तान के उपर तथा निकटवर्ती उत्‍तर पूर्वी राजस्‍थान और पंजाब में चक्रवाती तूफान का हल्‍का प्रभाव बना हुआ है। अगले 24 घंटो के दौरान इसके कमजोर पड़ने की संभावना है।

उपरोक्‍त क्षेत्रों में तूफान के असर से उत्‍तर दक्षिणी क्षेत्र में बना कम दबाव वाला क्षेत्र उत्‍तरी मध्‍य महाराष्‍ट्र,दक्षिण पूर्वी राजस्‍थान और पिश्चिमी मध्‍यप्रदेश की ओर बढ़ते हुए निचले स्‍तर पर स्थित है। अगले 48 घंटो के दौरान इसके कमजोर पड़ने की संभावना है।

एक चक्रवात परिसंचरण पश्चिम बंगाल के उत्तरी हिस्सों और पड़ोस के क्षेत्रो में निचले स्तर पर स्थित है। अगले 24 घंटो के दौरान इसके इसी रूप में इस क्षेत्र में बने रहने की संभावना है इसके बाद यह धीरे धीरे कमजोर पड़ता जाएगा।

उत्‍तर – दक्षिण में बना कम दबाव वाला क्षेत्र समुद्र माध्‍य स्‍थल से 3.1 किलोमीटर की उंचाई पर 88 डिग्री पूर्वी देशांतर से 24 डिग्री उत्‍तरी देशांतर तक फैला हुआ है। इसके धीरे धीरे पूर्व की ओर बढ़ने की संभावना है।

रायलसीमा से दक्षिणी तमिलनाडु के बीच उत्‍तर-दक्षिणी हवाओं का अलगाव निचले स्‍तर पर स्थित है।

मौसम पूर्वानुमान :

जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पश्चिम बंगाल और सिक्किम में अधिकतर स्थानों पर, असम और मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा, केरल और दक्षिण भीतरी कर्नाटक में ज्‍यादा तरह जगहों और राजस्थान, गुजरात, उत्तर कोंकण और उत्तर मध्य महाराष्ट्र तथा देश के कई अन्‍य हिस्‍सों में  एक आध स्‍थानों पर बारिश और आंधी तूफान की संभावना  है। बाकी हिस्‍सों में अगले 2-3 दिनों के दौरान मौसम शुष्‍क बना रह सकता है।

अगले दो दिनों के लिए मौसम संबंधी चेतावनी (14-15 मई 2018):

जम्‍मू कश्‍मीर ,हिमाचल प्रदेश और उत्‍तराखंड में एक आध स्‍थानों पर 50 से 70 किलोमीटर प्रति घंटे की तेज रफ्तार हवाओं के साथ आंधीतूफान आने और ओला वृष्टि की संभावना है। पश्चिम बंगाल के गांगेय क्षेत्र तथा ओडिशा में एक आध स्‍थानों पर तेज हवांए चल सकती हैं।

पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ और दिल्ली, उत्तर प्रदेश, झारखंड, असम और मेघालय नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा एक-आध स्थानों पर 50 से 60 किलोमीटर प्रतिघंटे की तेज़ रफ्तार हवाओँ के साथ आंधी-तूफान आने की संभावना है। तटीय आंध्र प्रदेश, रायलसीना, दक्षिण भीतरी कर्नाटक, तमिलनाडु और पुद्दुचेरी में 40 से 50 किलोमीटर की तेज रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं।

पश्चिम बंगाल और सिक्किम के उप-हिमालय क्षेत्र, केरल, दक्षिण भीतरी कर्नाटक, भीतरी तमिलनाडु और असम तथा मेघालय के कुछ स्थानों में भारी वर्षा होने की संभावना है।

राजस्थान में कुछ जगहों में धूल भरी आंधी आ सकती है।

TOPPOPULARRECENT