पीएनबी में देश का बड़ा बैंकिंग घोटाला, 10 अधिकारी निलंबित जांच शुरू

पीएनबी में देश का बड़ा बैंकिंग घोटाला, 10 अधिकारी निलंबित जांच शुरू
Click for full image
 नई दिल्ली :  सार्वजनिक क्षेत्र में भारत के दूसरे सबसे बडे बैंक पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) में देश का बड़ा बैंकिंग घोटाला हुआ है। पीएनबी ने बुधवार को शेयर बाजार को मुंबई स्थित शाखा में घोटाले की जानकारी दी। केंद्रीय जांच एजेंसी (सीबीआई) ने पांच फरवरी को हीरा कारोबार में सेवा प्रदान करने वाले अरबपति नीरव मोदी और उनके भाई, पत्नी और एक कारोबारी के खिलाफ धोखाधड़ी में मामला दर्ज किया है। सीबीआई ने इनके खिलाफ भारतीय दंड संहिता के तहत आपराधिक साजिश रचने, धोखाधड़ी करने और भ्रष्टाचार निरोधक कानून के तहत मामला दर्ज किया है।

सीबीआई के एफआईआर के आधार पर प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने भी मामला दर्ज कर वित्तीय लेनदेन में हुई गड़बड़ी की जांच शुरू कर दी है। आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि धनशोधन निवारण अधिनियम (पीएमएलए) के तहत मामला दर्ज किया गया है। सीबीआई ने डायमंड किंग के नाम से जाने जाने वाले नीरव मोदी और उनके करीबियों के ठिकानों पर छापेमारी भी की। नीरव मोदी और उसके करीबियों ने अपनी तीन कंपनियों डायमंड आर यूएस, सोलर एक्सपोर्ट और स्टैलर डायमंड के जरिए धोखाधड़ी का जाल बुना था।

इस धोखाधड़ी में कई बड़ी ज्वेलरी कंपनियां गीतांजलि, गिन्नी और नक्षत्र भी जांच एजेंसियों की जांच के दायरे में आ गई हैं। पीएनबी ने अपने 10 अधिकारियों को धोखाधड़ी के मामले में निलंबित कर दिया है। फाइनेंशियल सर्विस सेक्रेटरी राजीव कुमार ने कहा कि यह बिल्कुल अलग केस है इसका अन्य लेन-देन वाले मामले पर कोई असर नहीं पड़ेगा। उन्होंने कहा, वित्त मंत्रालय ने इस बारे में आगे बढक़र कदम लिया है और बैंक को इस मामले की रिपोर्ट सीबीआई और एनफोर्समेंट डायरेक्टोरेट (ईडी) को करने को कहा है जिससे इसके खिलाफ पर्याप्त कदम उठाए जा सकें।

Top Stories