Friday , December 15 2017

पीएम मोदी का ‘इतालवी चश्मा’ पहनकर केदारनाथ जाना : कांग्रेस ने लगाए गंभीर इल्ज़ाम

नई दिल्ली :  कांग्रेस ने शुक्रवार को प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी को केदारनाथ मंदिर के पुनर्विकास के बारे में अपनी टिप्पणियों पर “अभिमानी” होने का आरोप लगाया है,   उन्होंने कहा कि उन्होंने उत्तराखंड के लोगों को अपमानित किया है .
कांग्रेस ने आरोप लगाया कि जब वह लोगों को संबोधित कर रहे थे, उस समय उनकी पीठ भगवान शिव के मंदिर की ओर थी और वह इतालवी चश्मा पहने हुए थे।  कांग्रेस के प्रभारी रणदीप सुरजेवाला ने आरोप लगाया, की मोदी जी ने केदारनाथ के मुख्य प्रवेश के ठीक बाहर मंच बनाकर तथा भगवान शिव की तरफ पीठ कर भाषण देकर हमारी परंपरा और संस्कृति का अनादर किया है।’
गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में 2013 में मंदिर के पुननिर्माण के लिए कांग्रेस सरकार द्वारा अनुमति नहीं दिए जाने के मोदी के दावे पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए सिंह ने कहा, ‘यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि केदारनाथ में उनके संबोधन में अहंकार झलक रहा था।’
कांग्रेस प्रवक्ता आर पी एन सिंह ने दावा किया कि केदारनाथ के पुनर्विकास के लिए कुछ भी करने या 2013 की बाढ़ के दौरान लोगों को बचाने का गुजरात के तत्कालीन मुख्यमंत्री के रूप में मोदी का कोई रिकॉर्ड नहीं है।
प्रधानमंत्री पर राज्य के लोगों को गुमराह करने का आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा कि जब वह हादसा हुआ था, केंद्र की तत्कालीन संप्रग सरकार ने पुनर्वास कार्य के लिए एक समिति गठित की थी और 8,000 करोड़ रुपए राहत के लिए मंजूर किए थे।
संवाददाताओं से बातचीत करते हुए सिंह ने दावा किया कि उसी समय 2200 करोड़ रुपए जारी कर दिए गए थे और पिछले तीन साल में मोदी सरकार द्वारा एक पैसा भी नहीं जारी किया गया।
सुरजेवाला ने  कहा कि जब कोई शासक अभिमानी हो जाता है तो उसका पतन नजदीक आ जाता है। उन्होंने प्रधानमंत्री से आग्रह किया कि वह राज्य के लोगों का अनादर नहीं करें और कहा कि भगवान शिव किसी से मदद नहीं मांगते बल्कि श्रद्धा मांगते हैं।
TOPPOPULARRECENT