पीएम मोदी ने 15 लाख लोगों को कर दिया बेरोजगार : सर्वे रिपोर्ट

पीएम मोदी ने 15 लाख लोगों को कर दिया बेरोजगार : सर्वे रिपोर्ट
Click for full image

मजे की बात यह भी है कि पीएम मोदी ने अपने चुनावी भाषणों में देश के युवाआें को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने के वादे भी किये थे. सरकारी आंकड़ों पर ही भरोसा करें, तो देश में हर साल करीब 10 लाख तक की श्रमशक्ति को रोजगार की जरूरत होती है, लेकिन अभी हाल ही में आयी एक सर्वे रिपोर्ट पर यकीन करें, तो पीएम मोदी की सरकार बीते एक साल में देश की करीब डेढ़ लाख श्रमशक्ति को भी रोजगार के अवसर नहीं उपलब्ध करा सकी है. अब एेसे में सवाल उठता है कि बीते एक साल में पीएम मोदी की सरकार ने देश के 10 लाख युवाआें को रोजगार तो दे न सकी, उल्टे नोटबंदी का फैसला लेकर 15 लाख लोगों की नौकरियां छीन ली.

Top Stories