Saturday , January 20 2018

पीएम सबकुछ बोलकर निकलना चाहते हैं, हम निकलने नहीं देंगे : नीतीश

पटना : डीएनए वाले बयान पर वजीरे आला नीतीश कुमार ने मंगल को पीएम मोदी पर जोरदार हमला बोला। उन्होंने कहा कि हमारा डीएनए वही है, जो बिहारियों का डीएनए है। हमारे डीएनए में बिहार का जो मुस्तकबिल है, वही है। बिहार के लोगों की खासियत है कि यहां के लोग मेहनती होते हैं।

यहां की नौजवान मेधावी है। उन्होंने कहा कि अगर वजीरे आजम नरेंद्र मोदी को डीएनए पर शक है तो बिहार के पचास लाख लोग अपना-अपना सैंपल भेज रही हैं। अगर उनको लगता है कि बिहारियों के डीएनए में गड़बड़ है तो जांच करा कर देख लें। उन्होंने जांच की रिपोर्ट से रियासत की आवाम को भी जानकारी कराने की मुतालिबात की। सीएम ने कहा कि हमलोग सैंपल भेज रहे हैं, जांच उन्हें ही करवानी होगी। खर्च भी वही करेंगे। नीतीश ने कहा कि वजीरे आजम को सोचना चाहिए था कि वह क्या बोल रहे हैं। उन्होंने कहा कि वे सब कुछ बोलकर निकलना चाहते हैं, उन्हें निकलने नहीं दिया जायेगा। वे बोले हैं तो इसके लॉिजक इंड तक हमलोग जायेंगे।

वजीरे आला ने कहा कि पूरे बिहार में मुहिम चलाकर हमलोग वजीरे आजम को डीएनए जांच के लिए पचास लाख सैंपल भेजेंगे। उन्होंने कहा कि हमलोग इंतजार कर रहे थे कि गया की रैली में वजीरे आजम अपना लफ्ज वापस ले लेंगे। इसलिए लफ्ज वापस लेने के लिए दरख्वास्त किया था। उनके डीएनए के बयान से करोड़ों बिहारवासियों को ठेस पहुंची है। इसलिए उन्हें लफ्ज वापस ले लेना चाहिये।

उन्होने वजीरे आजम के बयान की तनकीद करते हुए कहा कि वह इतने बड़े ओहदे पर हैं। अच्छा होता वे अपना लफ्ज वापस ले लेते। लफ्ज वापसी के लिए हमलोग मुहिम चला रहे हैं। तौसिह प्रोग्राम चलेगा और इस सिलसिले में लोग अपना-अपना सैंपल वजीरे आजम को भेज रहे हैं। वजीरे आजम जांच करा लें कि डीएनए में क्या है, उन्हें पता चल जायेगा।

 

TOPPOPULARRECENT