Saturday , December 16 2017

पीएलएफआइ के खिलाफ बरती जायेगी खास सख्ती

रांची 12 जुलाई : पीएलएफआइ अक्सरियत पसंदों की बढ़ती सरगर्मियों को देखते हुए रियासत पुलिस ने संजीदगी बरती है। पुलिस ने तय किया है कि पीएलएफआइ मुतासिर जिलों के सरहदी पर खुसूसी सख्ती बरती जायेगी, ताकि अक्सरियत पसंदों पर नकेल कसा जा सक

रांची 12 जुलाई : पीएलएफआइ अक्सरियत पसंदों की बढ़ती सरगर्मियों को देखते हुए रियासत पुलिस ने संजीदगी बरती है। पुलिस ने तय किया है कि पीएलएफआइ मुतासिर जिलों के सरहदी पर खुसूसी सख्ती बरती जायेगी, ताकि अक्सरियत पसंदों पर नकेल कसा जा सके। छापेमारी के दौरान पुलिस अहम तौर पर सरहदी इलाकों में गाड़ी चेकिंग मुहीम चलायेगी।

इससे मुताल्लिक हुक्म जारी कर दिया गया है। पुलिस खास कर गुमला, सिमडेगा, लोहरदगा, खूंटी, रांची और सिमडेगा जिले पर नजर रखेगी। पुलिस के मुताबिक पीएलएफआइ के उग्रवादी बाइक समेत दूसरे गाड़ियों से आवाजाही करते हैं। लेवी वसूलने के लिए भी बाइक का इस्तेमाल करते हैं।

ऐसी सूरत में मुतासिर इलाकों पर खास नजर रखी जायेगी। काबिले ज़िक्र है कि जनवरी 2013 से लेकर मई के आखिर तक रियासत में कुल 181 वारदात हुईं। इनमें 51 वारदातों को अकेले पीएलएफआइ के अक्सरियत पसंदों ने अंजाम दिया है। मौजूदा में भाकपा माओवादी के बाद पुलिस के लिए पीएलएफआइ का खात्मा चैलेंज है।

TOPPOPULARRECENT