पीसीबी ने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड से सात करोड़ डॉलर मुआवजे की मांग की

पीसीबी ने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड से सात करोड़ डॉलर मुआवजे की मांग की
Click for full image

कराची। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने दो ‘घरेलू’ द्विपक्षीय श्रृंखलायें नहीं खेलने के लिए भारतीय क्रिकेट बोर्ड से सात करोड़ डालर मुआवजे की मांग की है। पीसीबी ने इस मसले पर सलाह मशविरे की प्रक्रिया पूरी करके मुआवजे की रकम तय की है।

वह कुछ दिन में आईसीसी की भुगतान निबटान समिति के पास दावा पेश करेगा। पीसीबी अध्यक्ष नजम सेठी ने कहा, ‘‘हमने बीसीसीआई के साथ 2014 में सहमति पत्र पर हस्ताक्षर किए थे जिसके तहत छह द्विपक्षीय श्रृंखलायें खेलने पर सहमति बनी थी जिनमें हमारी मेजबानी में घरेलू श्रृंखला शामिल थी।

भारत ने इस पर अमल नहीं किया और 2008 से अब तक हमारे साथ द्विपक्षीय श्रृंखला नहीं खेली है लेकिन हमारे खिलाफ आईसीसी टूर्नामेंटों में खेलने में उन्हें कोई दिक्कत नहीं है।’’ सेठी ने कहा कि सहमति पत्र के तहत दोनों देशों को 2015 से 2023 के बीच छह द्विपक्षीय श्रृंखलायें खेलनी थी।

Top Stories