Thursday , December 14 2017

पी एच एफ़ हिंदुस्तान से हाकी सीरीज़ के लिए कोशिश‌

हिंदुस्तान के साथ बाहमी सीरीज़ के अहया के लिए कोशिश‌ पाकिस्तान हाकी फेडरेशन हिंदुस्तान के साथ टेस्ट सीरीज़ की मेज़बानी के लिए कोशिश‌ है क्योंकि उसे हकूमत-ए-पाकिस्तान की जानिब से हिंदुस्तान की हाकी टेस्ट सीरीज़ में मेज़बानी के लिए इज

हिंदुस्तान के साथ बाहमी सीरीज़ के अहया के लिए कोशिश‌ पाकिस्तान हाकी फेडरेशन हिंदुस्तान के साथ टेस्ट सीरीज़ की मेज़बानी के लिए कोशिश‌ है क्योंकि उसे हकूमत-ए-पाकिस्तान की जानिब से हिंदुस्तान की हाकी टेस्ट सीरीज़ में मेज़बानी के लिए इजाज़त मिल गई है हालाँकि तारीख़ का फ़ैसला नहीं किया गया है।

पाकिस्तान हाकी फेडरेशन (पी एच एफ़) के सदर अख्तर रसूल ने कहा कि हुकूमत ने हमें ना सिर्फ़ हिंदुस्तान के ख़िलाफ़ हाकी टेस्ट सीरीज़ की मेज़बानी की इजाज़त दी है बल्कि फंड्स फ़राहम करने पर भी रजामंदी ज़ाहिर करदी है। पी एच एफ़ हिंदुस्तान के साथ मुल्क और बैरून-ए-मुल्क बाहमी टेस्ट सीरीज़ कराने का ख़ाहिश‌ है और अख्तर रसूल चाहते हैं कि ये सीरीज़ रवां साल‌ हो ताहम उन्हें हिंदुस्तानी अर्बाब मजाज़ के जवाब का इंतिज़ार है।

उन्होंने कहा कि पी एच एफ़ रवां साल‌ हिंदुस्तान के साथ टेस्ट सीरीज़ का ख़ाहिश‌ है लेकिन इसके साथ ही उन्हें इंडियन हाकी फेडरेशन के जवाब का इंतिज़ार है। अपने अह्द में बैनुल-अक़वामी सतह पर हाकी के मैदानों में अपनी सलाहियतों का सिक्का मनवाने वाली हिंदुस्तान और पाकिस्तान की टीमें अब जद्द-ओ-जहद में मसरूफ़ हैं जबकि पाकिस्तानी टीम रवां सीरीज़ होने वाले वर्ल्ड कप में रसाई से भी महरूम होचुकी है।

पी एच एफ़ के सदर अख्तर रसूल ने इस बारे में इज़हार-ए-ख़्याल करते हुए कहा कि पाकिस्तान में हाकी के खेल‌ को बहाल करने के लिए ना सिर्फ़ फंड्स की ज़रूरत है बल्कि हाकी के मुताल्लिक़ अवाम में दिलचस्पी भी पैदा करनी होगी।

TOPPOPULARRECENT