Wednesday , December 13 2017

पी जी एंट्रेंस टेसट मंसूख़

रियासती सतह पर एन टी आर हेल्थ यूनीवर्सिटी की तरफ से मुनाक़िदा मेडिकल पी जी एंट्रेंस टेसट को मंसूख़ कर दिया गया।

रियासती सतह पर एन टी आर हेल्थ यूनीवर्सिटी की तरफ से मुनाक़िदा मेडिकल पी जी एंट्रेंस टेसट को मंसूख़ कर दिया गया।

इस मेडिकल पी जी एंट्रेंस टेसट में बड़े पैमाने पर बे क़ाईदगियों के वाक़ियात पेश आने से मुताल्लिक़ रियासती सी बी सी आई डी ने रियासती गवर्नर ई एस एल नरसिम्हन को जामि रिपोर्ट पेश की थी।

लिहाज़ा रियासती गवर्नर ई एस एल नरसिम्हन ने सी बी सी आई डी के पेश करदा सबूतों पर मबनी रिपोर्ट की बुनियाद पर मेडिकल पी जी एंट्रेंस टेसट को मंसूख़ करने का फ़ैसला किया ,और मुताल्लिक़ा आला ओहदेदारों को दुबारा मेडिकल पी जी एंट्रेंस टेसट मुनाक़िद करने का हुक्म दिया। बताया जाता हैके मेडिकल पी जी एंट्रेंस टेसट में मुबय्यना बे क़ाईदगियों के पेश आए वाक़िया पर रियासती गवर्नर से लोक सत्ता पार्टी और रियासती सी पी आई ने शिकायत की।

जिस पर फ़ौरी अपने रधे अमल का इज़हार करते हुए गवर्नर ने सदर नशीन रियासती कौंसिल बराए आला तालीम के ज़रीये तहक़ीक़ात करवाई। इस तहक़ीक़ाती रिपोर्ट में बाज़ बे क़ाईदगियों के पेश आने का इज़हार किया गया था लेकिन कोई सबूत फ़राहम करने से सदर नशीन रियासती कौंसिल बराए आला तालीम क़ासिर थे।

जिस पर इ एस एल नरसिम्हन ने मेडिकल पी जी एंट्रेंस टेसट बे क़ाईदगियों की मुकम्मिल तहक़ीक़ात करके अंदरून 72 घंटे उन्हें रिपोर्ट पेश करने की सी बी सी आई डी सरबराह को हिदायत दी थी। इन हिदायात की रोशनी में सी बी सी आई डी सरबराह कृष्णा प्रसाद ने अपने मातहत ओहदेदारों के ज़रीया तेज़ी के साथ तहक़ीक़ात करके तमाम सबूत पेश करते हुए अपनी रिपोर्ट अंदरून मुक़र्ररा मुद्दत रियासती गवर्नर को पेश की थी, इस रिपोर्ट का जायज़ा लेने के बाद रियासती गवर्नर ने इस मेडिकल पी जी एंट्रेंस टेसट को फ़ौरी असर के साथ मंसूख़ करने का फ़ैसला किया।

TOPPOPULARRECENT