Saturday , December 16 2017

पी जी मैडीकल सीट के लिए ऑन लाइन कौंसलिंग ,रियास्ती तलबा महरूम

मुल्क भर के हज़ारों मैडीकल तलबा-ए-को सब से बड़ी राहत फ़राहम करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने आज पोस्ट ग्रैजूएट मैडीकल कोर्सेस में दाख़िलों के लिए ऑन लाइन कौंसलिंग करने मर्कज़ की तजवीज़ को मंज़ूरी दी है । सरकारी कॉलिजस में ऑल इंडिया कोट

मुल्क भर के हज़ारों मैडीकल तलबा-ए-को सब से बड़ी राहत फ़राहम करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने आज पोस्ट ग्रैजूएट मैडीकल कोर्सेस में दाख़िलों के लिए ऑन लाइन कौंसलिंग करने मर्कज़ की तजवीज़ को मंज़ूरी दी है । सरकारी कॉलिजस में ऑल इंडिया कोटा के लिए ये कौंसलिंग होगी लेकिन इस कौंसलिंग की सहूलत से जम्मू कश्मीर के इलावा आंधरा प्रदेश के तलबा-ए-महरूम होंगे ।

सुप्रीम कोर्ट की मंज़ूरी के बाद जारीया तालीमी साल 2012-13 में पोस्ट ग्रैजूएट मैडीकल 5245 और मास्टर डेंटल सर्जरी 168 सीट्स के लिए 25 हज़ार तलबा-ए-को फ़ायदा होगा । जस्टिस दीपक वर्मा और के इस राधा कृष्णन की बेंच ने सेनएर वकील अशोक भान की बहस के समाअत के बाद ये अहकाम जारी किए ।

उन्हों ने यक्म मई 2012 से ऑन लाइनकौंसलिंग के इनइक़ाद के लिए मंज़ूरी देने अदालत पर ज़ोर दिया था । ऑल इंडिया कोटा सरकारी कॉलिजस में 50 फीसद नशिस्तों के लिए मसह बिकती इमतिहान मुनाक़िद होता है। सुप्रीम कोर्ट ने इस ऑन लाइनपी जी मैडीकल कौंसलिंग के लिए आंधरा प्रदेश और जम्मू कश्मीर के मासिवा तमाम तलबा-ए-को इजाज़त दी है ।

ये पूछने पर कि आया वो चीफ़ मिनिस्टर से इस्तीफ़ा मुतालिबा करेंगे। उन्हों ने कहा कि वो इस बात को किरण कुमार रेड्डी की अक़्लमंदी पर छोड़ते हैं। मिस्टर वीवीक ने इल्ज़ाम आइद किया कि ग़लत उम्मीदवारों के इंतिख़ाब के करण कुमार रेड्डी के यकतरफ़ा फ़ैसलों और पार्टी के सीनीयर क़ाइदीन से इस सिलसिला में सलाह-ओ-मश्वरा ना करने की वजह इलाक़ा तेलंगाना में कांग्रेस पार्टी को शिकस्त हुई है।

मिस्टर वीवीक ने चीफ़ मिनिस्टर को इस बात के लिए मौरिद इल्ज़ाम ठहराया कि वो तेलंगाना एजीटशन को कमज़ोर करने की कोशिश में इस इलाक़ा में पाई जाने वाली सूरत-ए-हाल पर मर्कज़ को ग़लत रिपोर्टस रवाना कररहे हैं। उन्हों ने कहा कि मर्कज़ तेलंगाना के मसला पर इलाक़ा में पार्टी की इस शिकस्त के बाद संजीदगी के साथ ग़ौर कर रहा है।

TOPPOPULARRECENT