Monday , December 18 2017

पुरानी मुद्रा की परिवर्तन व्यापार बन गया ‘बरोकरस का राज

हैदराबाद 15 नवंबर: केंद्र की ओर से 500 और 1000 मुद्रा नोट हटाए जाने के बाद जनता को नया नोट प्राप्त करने के लिए जिन समस्याओं और तकलीफों का सामना है, उसका बीच के लोग शोषण करते हुए अपना लाभ देख रहे हैं।

शहर के विभिन्न स्थानों पर नियमित काउंटरस स्थापित कर दिए गए जहां 20 से 30 प्रतिशत कमीशन पर पुराने नोट प्राप्त हुए उनकी जगह 100 या 2000 के नए नोट हवाले किए जा रहे हैं। जनता को बैंकों और पोस्ट ऑफिस से राशि परिवर्तन में घंटों इंतेजार करना पड़ रहा है।

इसलिए वे इससे बचने के लिए 20 से 30 प्रतिशत कमीशन पर नोट बदलने के लिए तैयार हो रहे हैं। पुराने शहर के कई स्थानों पर इस तरह की गतिविधियां खुलेआम चल रहे हैं और आश्चर्य की बात है कि पुलिस इन गतिविधियों पर मूकदर्शक बनी हुई है। बताया जाता है कि पुराने शहर में स्थित बैंकों और पोस्ट आकर्षण के करीब बरोकरस और उनके लोग घूम रहे हैं और पंक्तियों में ठहरे हुए लोगों को कमीशन के आधार पर पुराने नोट बदलने का लालच दे रहे हैं।

जनता को 8 से 10 घंटे पंक्ति में ठहरने के बजाये कमीशन देना आसान दिखाई दे रहा है जो बरोकरस के लिए चांदनी हो चुकी है। रिपोर्टों के अनुसार कई पूंजीपतियों और व्यापारी कमीशन प्राप्त करते हुए राशि बदलने का बाक़ायदा व्यापार शुरू कर दिया है और मुसीबत की इस घड़ी में जनता का खून पसीने की कमाई से अपना हिस्सा प्राप्त कर रहे हैं।

TOPPOPULARRECENT