Monday , December 11 2017

पुराने तेवर में नज़र आए लालू

रांची जेल से बाहर निकलने के बाद राजद सदर लालू प्रसाद ने मंगल को रजरप्पा मंदिर में पूजा-अर्चना की। पूजा करने से पहले रामगढ़ के डीएसपी अशोक कुमार ने उनके पैर धोये। बिहार के एक जवान ने चप्पल ढोया।

रांची जेल से बाहर निकलने के बाद राजद सदर लालू प्रसाद ने मंगल को रजरप्पा मंदिर में पूजा-अर्चना की। पूजा करने से पहले रामगढ़ के डीएसपी अशोक कुमार ने उनके पैर धोये। बिहार के एक जवान ने चप्पल ढोया।

इस बारे में जब रामगढ़ के डीएसपी से बात की गयी, तो उनका कहना था कि लालू प्रसाद एक अहम लीडर हैं। उनकी सेक्यूरिटी की जिम्मेवारी हुकूमत ने मुझे सौंपी थी। मंदिर से निकलने के बाद लालू प्रसाद ने कहा कि पैर में कुछ लग गया है। इसे धोना पड़ेगा। इतना सुनते ही कई हिमायती पानी का जग लेकर दौड़े, लेकिन मैंने कहा कि कोई सामने नहीं जायेगा, इनकी सेक्यूरिटी की जिम्मेवारी मेरी है, मैं ही पानी डाल देता हूं।

आडवाणी को रोका था, मोदी का रथ चूर-चूर कर दूंगा

मिस्टर प्रसाद ने कहा कि आडवाणी का रथ रोका था, मोदी को भी मैं ही रोकूंगा। मैं भी रथ निकालूंगा। मोदी का रथ मेरे रथ से टकरा कर चूर-चूर हो जायेगा। फिरका परस्ती वाले रथ को रोकूंगा। नरेन्द्र मोदी हों या कोई और मोदी, मैं कच्छा पहन कर तैयार हूं, सबको देख लूंगा। इक्तिदार के लालच में बिहार के वजीरे आला नीतीश कुमार ने आडवाणी और नरेन्द्र मोदी से समझौता किया।

गोधरा के फसाद के बाद नरेन्द्र मोदी को बचाया। अब आवाम के सामने उनकी हकीकत उजागर हो गयी है। आवाम उन्हें माफ नहीं करेगी। मिस्टर प्रसाद ने कहा कि आवाम के सामने सारी बातें रखने के लिए जल्दी ही पटना में एक बड़ी रैली करूंगा।

जेल में थे, इसलिए जीत गयी भाजपा

मिस्टर प्रसाद ने कहा कि साजिश के तहत हमें जेल भेज दिया गया था। हाल के इंतिख़ाब में फिरका परस्त ताकतों को मौका मिल गया। अब हम जेल के बाहर आ गये हैं। हम हरायेंगे फिरका परस्ती ताकतों को सब तरफ घूमेंगे। मोरचा खोलेंगे। अवाम को असलियत बतायेंगे। आने वाले इंतिख़ाब में आवाम भी सबको औकात बता देगी।

TOPPOPULARRECENT