Thursday , December 14 2017

पुराने शहर की मंदिरों में सरका करनेवाली टोली गिरफ़्तार

सेंट्रल क्राईम स्टेशन ( सी सी ऐस) पुलिस ने शहर के मुख़्तलिफ़ इलाक़ों बिलख़सूस पुराने शहर के मंदिरों में तिलाई जे़वरात के सरका की वारदातों में मुलव्वस तीन रुकनी टोली को गिरफ़्तार करने में कामयाबी हासिल करली है ।

सेंट्रल क्राईम स्टेशन ( सी सी ऐस) पुलिस ने शहर के मुख़्तलिफ़ इलाक़ों बिलख़सूस पुराने शहर के मंदिरों में तिलाई जे़वरात के सरका की वारदातों में मुलव्वस तीन रुकनी टोली को गिरफ़्तार करने में कामयाबी हासिल करली है ।

तफ़सीलात के बमूजब पिछ्ले एक माह से पुराने शहर के मुख़्तलिफ़ इलाक़ों से इब्तिदा-ए-होने वाले सिलसिला वार मंदिरों में सरका की वारदातें पुलिस के लिए दर्द-ए-सर बिन गई थीं और इस सिलसिले में कोई सुराग़ आसानी से हाथ नहीं लग रहा था ।

लेकिन सी सी ऐस पुलिस के ओहदेदारों ने पुराने शहर से ताल्लुक़ रखने वाले तीन नौजवानों की एक टोली को हिरासत में ले लिया है और उन की तफ़तीश के लिए टास्क फ़ोर्स के हवाले कर दिया गया है ।

ज़राए ने मज़ीद बताया कि इस टोली के सरग़ना का ताल्लुक़ कुरनूल से है और वो पुराने शहर का मुक़ीम है , अपने दो साथीयों के साथ मंदिरों को निशाना बनाते हुए वहां पर मौजूद तिलाई जे़वरात का सरका कररहा था ।

हिंदू बुनियाद परस्त तंज़ीमें सरका की वारदातों को फ़िर्कावाराना रंग देने की मुसलसल कोशिश करते हुए इन वाक़ियात के पसेपर्दा साज़िश होने का दावा करती रही हैं ।

जबकि बढ़ती हुई महंगाई के सबब सार क़ैन तिलाई जे़वरात का सरका करने के लिए अव्वलीन तर्जीह दे रहे थे । बताया जाता है कि गिरफ़्तार मुल्ज़िमीन ने 18 से ज़ाइद मंदिरों में सरका की वारदातें अंजाम देने का सनसनीखेज़ इन्किशाफ़ किया है और पुलिस मस्रूक़ा माल बरामद करने के लिए कोशिश कररही है ।

जारीया साल अक्टूबर में लाल दरवाज़ा महा निकाली मंदिर में सरका की वारदात के बाद हालात कशीदा होगए थे लेकिन मंदिरों में सरका की वारदातों पर क़ाबू नहीं पाया जा सका था जिस के नतीजा में सी सी इसके ख़ुसूसी टीमें तशकील दी गयों थीं ।

ज़राए ने बताया कि इस टोली का सरग़ना पिछ्ले चंद दिनों से साइबरबाद के इलाक़े एल्बी नगर को मुंतक़िल होगया था । पुलिस मुल्ज़िमीन की तफ़तीश कररही है और अनक़रीब उन की गिरफ़्तारी का ऐलान किया जायेग‌

TOPPOPULARRECENT