Tuesday , December 12 2017

पुराने शहर में अचानक नियम फ़ौजी दस्तों की गशत

हैदराबाद 17 जुलाई: पुराने शहर में अचानक नियम फ़ौजी दस्तों की गशत के बाइस शहरीयों में दहश्त की लहर दौड़ गई और लोग ख़ौफ़-ओ-हिरास में एक दूसरे से अचानक फ्लैग मार्च के बारे में दरयाफ़त करने लगे।

हैदराबाद 17 जुलाई: पुराने शहर में अचानक नियम फ़ौजी दस्तों की गशत के बाइस शहरीयों में दहश्त की लहर दौड़ गई और लोग ख़ौफ़-ओ-हिरास में एक दूसरे से अचानक फ्लैग मार्च के बारे में दरयाफ़त करने लगे।

हथियारों से लैस नियम फ़ौजी दस्तों पर मुश्तमिल फोर्सेस की पीस रियाली के बारे में अवाम तज़बज़ब का शिकार होगए। लोग एक दूसरे से सवाल करने लगे कि आया इस मार्च पास्ट की ज़रूरत क्योंकर महसूस की गई।

लोग जो माहे रमज़ामन में रोजे से हैं और ख़ुशगवार माहौल में ईद-उल-फ़ित्र की तैयारीयों में हैं जबकि अक्सरीयती तबक़ा बोनालु तहवार की तैयारीयों में मसरूफ़ है एसे में फ़ौजी ताक़त के मुज़ाहरे से लोगों में तशवीश की लहर दौड़ गई।

आज दोपहर 2 बजे नियम फ़ौजी दस्ते बिशमोल बॉर्डर सकेवरेटी फ़ोर्स रियापिड एक्शण फ़ोर्स और दुसरे दस्तों का मार्च पास्ट-ओ-पीस रियाली का आग़ाज़ नूर ख़ां बाज़ार चमन से हुआ और ये रियाली पुराने शहर के हस्सास मुक़ामात देबिरपूरा कमान शेख़ फ़ैज़ याक़ूतपूरा बड़ा बाज़ार मादनापेट मुग़लपूरा और हरी बावलि से गुज़रते हुए अपनी ताक़त का मुज़ाहरा किया।

ज़ुहर की नमाज़ की अदायगी के बाद मसाजिद से बाहर निकलने वाले मसलियान सैंकड़ों की तादाद में हथियारों से लैस नियम फ़ौजी दस्तों की अचानक आमद से ख़ौफ़ज़दा होगए।

इस रियाली की क़ियादत एडीशनल कमिशनर पुलिस कोआर्डिनेशन इंजनी कुमार ने की और डिप्टी कमिशनर पुलिस सावथ ज़ोन डक्टर तरूण जोशी उनके हमराह रियाली में शरीक थे।

TOPPOPULARRECENT