Monday , December 18 2017

पुराने शहर में क़ादियानीयों की साज़िशों में इज़ाफ़ा

मुसलमानों के भेस में मुस्लिम इलाक़ों में क़ादियानीयों की साज़िश दिन बह दिन ज़ोर पकड़ती जा रही है। देही इलाक़ों के अलावा अब शहर के सल्लम इलाकें कादयानी साज़िश का शिकार हो रहे हैं।

मुसलमानों के भेस में मुस्लिम इलाक़ों में क़ादियानीयों की साज़िश दिन बह दिन ज़ोर पकड़ती जा रही है। देही इलाक़ों के अलावा अब शहर के सल्लम इलाकें कादयानी साज़िश का शिकार हो रहे हैं।

जहां भूले भाले मुसलमानों को कादयानी मुसलमानों के भेस में गुमराह करने की साज़िश कर रहे हैं। एक एसा ही वाक़िया काले पत्थर पुलिस स्टेशन हदूद में पेश आया जो शहर भर में बिलख़सूस मिली तंज़ीमों में तशवीश का सबब बन गया।

जहां एक कादयानी मुस्लिम ख़वातीन को जमा करते हुए दरस दे रहा था और नमाज़ जुमा की तैयारी कर रहा था एन मौके पर इलाके के मुस्लिम नौजवान उस जगह पहूंच गए और इस कादयानी ख़ुदसाख़ता इमाम को अपनी ब्रहमी का निशाना बनाया।

बताया जाता हैके बशारतनगर के इलाके में ये वाक़िया पेश आया। इलाके के मुस्लिम नौजवानों का कहना हैके वो काफ़ी दिनों से इस मुक़ाम पर ख़ुद साख़ता कादयानी इमाम की हरकतों पर नज़र रखे हुए थे जैसे ही उन्हें इलम हुआ कि ये मुस्लमान होने का दावे कर रहा है और मुस्लिम ख़वातीन को गुमराह कर रहा है। मुस्लिम नौजवान ब्रहम होगए और उन्होंने ख़ुद साख़ता इमाम को अपनी ब्रहमी का निशाना बनाया जैसे ही वाक़िये की इत्तेला पुलिस को हुई पुलिस ने इलाके में सख़्त चौकसी इख़तियार की। इन्सपेक्टर कालापत्थर मुहम्मद माजिद ने बताया कि इमरान नामी शख़्स जो इमाम बताया गया है उसकी शिकायत पर मुक़द्दमा दर्ज करलिया गया है।

पुलिस मसरूफ़ तहक़ीक़ात है। इत्तेला पाकर सेक्रेटरी ख़त्म नबुव्वत ट्रस्ट मौलाना अरशद अली क़ासिमी ने नजम उद्दीन ज़ाहिद की निगरानी में एक वफ़द को कालापत्थर का दौरा किया और मुसलमानों से दरख़ास्त की के वो अपने मकानों में किरायादार और इलाके में मुक़ीम ग़ैर मुक़ामी अफ़राद और नए अफ़राद की सरगर्मीयों पर नज़र रखें।

बावसूक़ ज़राए के मुताबिक़ जिस इमरान नामी ख़ुद साख़ता इमाम को मुस्लिम नौजवानों ने अपनी ब्रहमी का निशाना बनाया वो बशारतनगर के इलाके में रहता है और इस का ताल्लुक़ उड़ीसा से बताया गया है।

TOPPOPULARRECENT