Thursday , December 14 2017

पुराने शहर हैदराबाद में पासपोर्ट ऑफ़िस के क़ियाम की मसाई

डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर तेलंगाना मुहम्मद महमूद अली 9 फ़रव‌री को चीफ़ मिनिस्टर राजिस्थान वसुंधरा राज्य संध्या से मुलाक़ात करते हुए चीफ़ मिनिस्टर तेलंगाना के चन्द्रशेखर राव‌ का मकतूब हवाले करेंगे जिस में दरगाह हज़रत ख़्वाजा मुईनुद्दीन च

डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर तेलंगाना मुहम्मद महमूद अली 9 फ़रव‌री को चीफ़ मिनिस्टर राजिस्थान वसुंधरा राज्य संध्या से मुलाक़ात करते हुए चीफ़ मिनिस्टर तेलंगाना के चन्द्रशेखर राव‌ का मकतूब हवाले करेंगे जिस में दरगाह हज़रत ख़्वाजा मुईनुद्दीन चिशती अजमेर शरीफ़ के क़रीब एक एकर अराज़ी अलॉट करने की ख़ाहिश की गई है।

तेलंगाना हुकूमत इस अराज़ी पर तेलंगाना से ताल्लुक़ रखने वाले ज़ाइरीन के क़ियाम की सहूलत के लिए ख़्वाजा ग़रीबनवाज़ गेस्ट हाउज़ तामीर करने का मंसूबा रखती है। हुकूमत ने इस के लिए 5 करोड़ रुपये अलॉट किए हैं। दरगाह शरीफ़ के क़ुरब-ओ-ज्वार के इलाक़े में अराज़ी के अलाटमेंट की ख़ाहिश की जाएगी। महमूद अली ने राजिस्थान के महिकमा माल के आला ओहदेदारों से फ़ोन पर बातचीत की और हुकूमत के मंसूबे से वाक़िफ़ किराया।

बताया जाता हैके ओहदेदारों ने डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर को बताया कि दरगाह के क़रीबी इलाके में अराज़ी मौजूद है जिस पर तेलंगाना ज़ाइरीन के लिए गेस्ट हाउज़ तामीर किया जा सकता है। महमूद अली हफ़्ते को नई दिल्ली रवाना होंगे और इतवार को दरगाह हज़रत ख़्वाजा मुईनुद्दीन चिशती पर हाज़िरी देंगे और पिर के दिन चीफ़ मिनिस्टर राजिस्थान से उनकी मुलाक़ात होगी।चीफ़ मिनिस्टर तेलंगाना ने तेलंगाना के ज़ाइरीन के लिए गेस्ट हाउज़ की तामीर से मुताल्लिक़ मकतूब को शख़्सी तौर पर चीफ़ मिनिस्टर राजिस्थान के हवाले करने महमूद अली को ज़िम्मेदारी दी है।

महमूद अली ने बताया कि गेस्ट हाउज़ की तामीर के बाद वहां ओहदेदार और मुलाज़िमीन को मुतय्यन किया जाएगा जो इंतेज़ामात की निगरानी करेंगे। गेस्ट हाउज़ में क़ियाम के सिलसिले में रहनुमायाना ख़ुतूत वज़ा किए जाऐंगे और हैदराबाद से गेस्ट हाउज़ के उमोर की निगरानी की जाएगी।

गेस्ट हाउज़ में क़ियाम के लिए हैदराबाद में मुक़र्रर करदा ओहदेदार या इदारे से मकतूब हासिल करना होगा। महमूद अली मंगल को नई दिल्ली पहुंचेंगे जहां मर्कज़ी वुज़रा सुषमा स्वराज और नजमा ह्ब्बत उल्लाह से उनकी मुलाक़ात होगी।

वज़ीर-ए-ख़ारजा सुषमा स्वराज से मुलाक़ात करते हुए वो हैदराबाद के पुराने शहर के इलाक़े में पासपोर्ट ऑफ़िस की ब्रांच क़ायम करने की अपील करेंगे ताकि पुराने शहर से ताल्लुक़ रखने वाले अफ़राद को पासपोर्ट से मुताल्लिक़ उमोर की यकसूई में सहूलत हो।

पुराने शहर की आबादी तक़रीबन 30 लाख है लेकिन पासपोर्ट ऑफ़िस का काउंटर इस इलाक़े में मौजूद नहीं जबकि सिकंदराबाद, अमीरपेटी और टोलीचौकी में पासपोर्ट ऑफ़िस के मराकज़ क़ायम किए गए हैं। महमूद अली सऊदी अरब की हैदराबादी रुबात के सिलसिले में भी वज़ीर-ए-ख़ारजा से नुमाइंदगी करेंगे। रुबात में क़ियाम से मुताल्लिक़ तनाज़ा के सबब पिछ्ले दो बरसों से तेलंगाना के आज़मीन-ए-हज्ज क़ियाम की सहूलत से महरूम हैं।

इस तनाजे की यकसूई के सिलसिले में मर्कज़ से मुदाख़िलत की ख़ाहिश की जाएगी। महमूद अली हैदराबाद में सऊदी अरब के कौंसुलेट के क़ियाम के सिलसिले में सऊदी सफ़ीर से मुलाक़ात करेंगे। सऊदी हुक्काम ने साबिक़ में हैदराबाद में सऊदी कौंसुलेट के क़ियाम का तीक़न दिया था उसकी तकमील के लिए महमूद अली सऊदी सफ़ीर की तवज्जा मबज़ूल करायेंगे।

दिल्ली के बाद मुंबई में सऊदी कौंसुलेट मौजूद है। हैदराबाद में सऊदी कौंसुलेट के क़ियाम से अवाम को काफ़ी सहूलत होगी। मर्कज़ी वज़ीर-ए-क़लीयती उमोर नज्म हेपतुल्ला से मुलाक़ात करते हुए प्रेमेट्रिक स्कालरशिप, अक़लीतयत तलबा के हॉस्टलस की तामीर, वक़्फ़ बोर्ड की तक़सीम और ओक़ाफ़ी जायदादों की तरक़्क़ी के सिलसिले में मर्कज़ से तआवुन की ख़ाहिश की जाएगी। मर्कज़ की प्रेमेट्रिक स्कालरशिप के सिलसिले में निशाना मुक़र्रर करने के सबब हर साल हज़ारों तलबा स्कालरशिप से महरूम होरहे हैं लिहाज़ा मर्कज़ से ख़ाहिश की जाएगी कि वो तेलंगाना के तमाम दरख़ास्त गुज़ारों को स्कालरशिप की मंज़ूरी को यक़ीनी बनाईं।

ओक़ाफ़ी जायदादों की तरक़्क़ी के सिलसिले में मर्कज़ से ग्रांट या फिर क़र्ज़ की मंज़ूरी की ख़ाहिश की जाएगी ताके ओक़ाफ़ी जायदादों से होने वाली आमदनी अक़लियतों की फ़लाह-ओ-बहबूद पर ख़र्च की जा सके।

महमूद अली ने बताया कि ओक़ाफ़ी जायदादों की तरक़्क़ी के सिलसिले में इस्लामिक डीवलपमनट बैंक ने भी तआवुन से इत्तिफ़ाक़ किया है। पराजकट की तैय्यारी के ज़रीया इस्लामिक वडेलपटमें बैंक को तेलंगाना में ओक़ाफ़ी जायदादों की तरक़्क़ी में शामिल किया जाएगा।

TOPPOPULARRECENT