पुलवामा में सैनिकों पर कराया गया झूठा हमला- भीम आर्मी के मुखिया

पुलवामा में सैनिकों पर कराया गया झूठा हमला- भीम आर्मी के मुखिया

भीम आर्मी के संस्थापक चंद्रशेखर ने रुड़की में बहुजन महासम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि पुलवामा में सैनिकों पर झूठा आतंकवादी हमला कराया गया। उन्होंने कहा कि तमाम इंटेलीजेंस की चेतावनी के बावजूद सैनिकों तक 300 किलो तक विस्फोटक सामग्री पहुंचना इसका सबूत है।

उन्होंने कहा कि एक मुसलमान की गलती की सजा देश के सभी मुसलमानों और कश्मीरियों को नहीं दी जा सकती। इस दौरान उन्होंने झबरेड़ा क्षेत्र के शराब कांड के लिए प्रशासन को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि प्रशासन ही पैसे लेकर शराब की भट्टियां चलवाते थे।

रुड़की में भीम आर्मी की ओर से नेहरू स्टेडियम में विशाल बहुजन महासम्मेलन का आयोजन किया गया। इसमें बड़ी संख्या में लोग जुटे। महासम्मेलन को संबोधित करते हुए चंद्रशेखर ने कहा कि दो अप्रैल को भारत बंद करना जानते हैं तो सरकार चलाना भी जानते हैं।

समाज के अधिकारों की रक्षा के लिए जान देने से भी पीछे नहीं हटेंगे। चंद्रशेखर ने मंच से यह साबित करने की भी कोशिश की कि उनका संगठन राष्ट्रीय स्तर पर भी राजनीतिक मुद्दों की राजनीति कर रहा है। इस दौरान उन्होंने पीएम मोदी को जम्मू कश्मीर में सैनिकों की शहादत पर राजनीति करने का आरोप लगाया।

कहा कि हमला मोदी सरकार की विफलता है। उन्होंने कहा कि राजनीतिक लाभ लेने के लिए सैनिकों पर झूठा आतंकवादी हमला कराया गया। क्योंकि अमेरिकी इंटेलीजेंस ने एक माह पहले ही सरकार को इसकी जानकारी दे दी थी।

इसके बावजूद 300 किलो से ज्यादा आरडीएक्स सैनिकों के ट्रक तक कैसे पहुंच गया। चंद्रशेखर ने मंच से अर्द्धसैनिकों को पेंशन दिए जाने की भी मांग की। उन्होंने कहा कि देश में आदिवासियों पर अत्याचार हो रहे हैं।

Top Stories