पुलवामा हमला: शिवसेना को याद आईं इंद्रा गांधी!

पुलवामा हमला: शिवसेना को याद आईं इंद्रा गांधी!

जम्मू कश्मीर में पिछल पांच दिनों के भीतर 45 जवानों की शहादत पर महाराष्ट्र और केंद्र सरकार में बीजेपी की सहयोगी शिवसेना ने सरकार को आड़े हाथों लिया है। शिवसेना के मुखपत्र ‘सामना’ ने केंद्र सरकार को जमकर कोसा है। सामना में लिखा है- ‘पुलवामा में खून की नदिया बहीं।

इसके बदले में एकाक सर्जिल स्ट्राइक करने वाले हो तो इसे बदला नहीं कहा जाएगा। सामना में देश की पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी का गुणगान करते हुए कहा कि पाकिस्तानियों को उन्होंने सबक सिखाय़ा था।

ज़ी न्यूज़ पर छपी खबर के अनुसार, लाहौर तक सेना घुसाकर पाकिस्तानी टुकड़ियों को तहत-नहस कर दिया। लाखो सैनिकों को घुटने टेकने पर मजबूर कर दिया। पुलवामा के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने सैनिकों को पाकिस्तान पर कार्रवाई करने की पूरी छूट दी।

पीएम मोदी ने सेना प्रमुखों को यह छूट दी है कि समय, दिन और स्थान सेना तय करें और बदला लें। अब सर्जिकल स्ट्राइक या सिमित युद्ध के दो विकल्प हैं। ये वो खुशी-खुशी करें।

इससे पहले पुलवामा आतंकवादी हमले के बाद की स्थिति पर चर्चा के लिए बुलाई गई सर्वदलीय बैठक में शिवसेना ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार से कहा कि वह सिर्फ सर्जिकल स्ट्राइक करने से नतीजे नहीं निकलने वाले और वक्त आ गया है कि लाहौर और इस्लामाबाद सहित पाकिस्तान के अंदरूनी हिस्सों में हमले किए जाएं।

Top Stories