पुलवामा हमले पर आज होगी सर्वदलीय बैठक, सरकार और जवानों के साथ खड़ा विपक्ष

पुलवामा हमले पर आज होगी सर्वदलीय बैठक, सरकार और जवानों के साथ खड़ा विपक्ष

नई दिल्ली : जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ जवानों पर हुए आतंकवादी हमले के बारे में जानकारी देने के लिए आज सर्वदलीय बैठक बुलाई गई है। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि इस घटना के बारे में सभी पार्टियों को जानकारी देने के लिए एक बैठक बुलाई गई है ताकि पूरा देश इस मुद्दे पर एक स्वर में बात कर सके।

अधिकारियों ने जानकारी देते हुए बताया कि यह बैठक गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने बुलायी है और सभी बड़ी राजनीतिक पार्टियों को इसके लिए आमंत्रण भेज दिया गया है। गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि सभी पार्टियों को पुलवामा में हुए हमले और सरकार द्वारा अब तक उठाए गए कदमों की जानकारी दी जाएगी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में शुक्रवार को हुई मंत्रिमंडल की सुरक्षा मामलों की समिति की बैठक में सर्वदलीय बैठक बुलाए जाने का फैसला किया गया है।

इससे पहले कांग्रेस की कोर कमेटी की बैठक में शुक्रवार को पुलवामा आतंकी हमले के बाद पैदा हुए हालात पर चर्चा की गई। कांग्रेस सूत्रों के मुताबिक, पार्टी की शीर्ष नेता सोनिया गांधी के आवास 10 जनपथ पर हुई कोर कमेटी की बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, पूर्व रक्षा मंत्री ए के एंटनी, वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद तथा पार्टी के कुछ अन्य वरिष्ठ नेता शामिल हुए।

सूत्रों का कहना है कि इस बैठक में यह तय किया गया कि सरकार इस मामले में जो भी कदम उठाएगी, कांग्रेस उसके साथ रहेगी तथा सर्वदलीय बैठक में इस संदर्भ में सरकार को आधिकारिक रूप से अवगत कराया जाएगा।

वैसे, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पार्टी मुख्यालय में संवाददाताओं से बातचीत में दो टूक कहा कि इस मामले पर पार्टी सरकार और अपने जवानों के साथ खड़ी है। गांधी ने कहा, ‘‘यह बहुत भयावह त्रासदी है। आतंकवाद का मकसद हमारे देश को तोड़ना और बांटना है लेकिन मैं यह साफ कहना चाहता हूं कि इस देश को कोई भी शक्ति तोड़ नहीं सकती, बांट नहीं सकती।

Top Stories