Friday , December 15 2017

पुलिस‍ और आवाम में भिड़ंत, संगबारी व फायरिंग

फीरोजाबाद, 24 मई: शहर में एक तालेबा का कत्ल कर लाश फेंके जाने की वाकिया के बाद बुध के दिन लोगों का गुस्सा फूट पड़ा। हाईवे जाम कर गाड़ियों की तोड़ फोड़ की। इसके बाद लाश दिल्ली-कानपुर रेलवे ट्रैक पर रखकर ट्रेनों की आवाजाही रोक दी। डाउन की गो

फीरोजाबाद, 24 मई: शहर में एक तालेबा का कत्ल कर लाश फेंके जाने की वाकिया के बाद बुध के दिन लोगों का गुस्सा फूट पड़ा। हाईवे जाम कर गाड़ियों की तोड़ फोड़ की। इसके बाद लाश दिल्ली-कानपुर रेलवे ट्रैक पर रखकर ट्रेनों की आवाजाही रोक दी। डाउन की गोमती एक्सप्रेस के इंजन पर संगबारी भी की । दो बाइकें फूंक डालीं।

हुजूम ने पुलिस पर पथराव भी किया, जिसे कंट्रोल करने के लिए पुलिस अहलकारों ने आंसू गैस के गोले दागे और गोलियां चलाईं। इसका जवाब भीड़ ने भी फायरिंग से दिया। करीब दो घंटे तक चले इस वाकिया में एडीएम और दो पुलिस अहलकार जख़्मी हुए हैं।

वाकिया के दौरान सीनीयर पुलिस आफीसर मौके पर पहुंच गए। इस बवाल की वजह से चार घंटे ट्रेन रूट बंद रहा और शताब्दी समेत कई गाड़ियां खड़ी रहीं। जुनूबी कोतवाली इलाके के साकिन कमल की 11 साल की बेटी नीता [दोनों बदले हुए नाम] बुध के दिन ही दूध लेने गई थी। जुमेरात की सुबह बोरे में बंद लाश मिलने पर हुजूम गुस्से मे आ गई। इल्ज़ाम था कि बच्ची की इस्मतरेज़ि के बाद कत्ल कर दिया गया है। पोस्टमार्टम के बाद दोपहर करीब ढाई बजे लाश ले जाते वक्त सैकड़ों की भीड़ ने चंद्रवार गेट रेलवे लाइन पर लाश रखकर ट्रैक जाम कर दिया। इससे ट्रेनों के पहिए थम गए।

डीएम संध्या तिवारी, एसपी डॉ. राकेश सिंह समेत कई थानों के फोर्स और पीएसी मौके पर पहुंची। लोगों को समझाया, लेकिन वे नहीं माने। पुलिस ने जैसे ही ट्रैक खाली कराने के लिए ताकत का इस्तेमाल किया कि संगबारी शुरू हो गयी। पुलिस ने भी संगबारी की, तो मकानों की छतों से पथराव होने से पुलिस अहलकार पूरी तरह घिर गए। कुछ ने इधर-उधर बचकर जान बचाए। पुलिस ने बचाव में हवा में गोलियां दागीं, तो भीड़ की तरफ से भी फायरिंग शुरू हो गई। पुलिस और इंतेज़ामिया आफीसर भी मकानों से हो रहे पथराव में पूरी तरह घिर गए।

पथराव में एडीएम सिंह और दो पुलिस अहलकार ज़ख़्मी हुए हैं। करीब दो घंटे तक हुए बवाल में पुलिस के पसीने छूट गए। आफीसर हुजूम तक जाने की हिम्मत नहीं जुटा पाए। इससे पहले गुस्साए लोगों ने हाईवे जाम कर दिया था। रोडवेज बस समेत दो गाड़ियों पर पथराव कर शीशे तोड़ दिए। सदर बाजार बंद कराया। दुकानें बंद कराने को लेकर लाठियां भी चलीं। वहीं पुलिस ने हाईवे पर गाड़ियों में तोडफ़ोड़ करने वाले दो लोग हिरासत में ले लिए हैं। डीआइजी विजय सिंह मीणा ने कहा है कि मामले के खुलासे के लिए आगरा से खुसुसी टीम भेजी जाएगी।

—बशुक्रिया: जागरण

TOPPOPULARRECENT