Tuesday , July 17 2018

पुलिस अधिकारियों की प्रतिष्ठा ही उनका पैमाना है’अरुण जेटली’

हैदराबाद 29 अक्टूबर: केंद्रीय वित्त मंत्री श्री अरुण जेटली ने कहा कि पुलिस अधिकारियों की प्रतिष्ठा ही उनका पैमाना है। आईपीएस परवबेशनरस 68 वें बियाच की पासिंग आउट परेड से नेशनल एकेडेमी में संबोधन में उन्होंने कहा कि पुलिस निष्पक्ष व्यवहार और मानवीय आधार पर पहचाना जाता है। उन्होंने कहा कि मौजूदा समय में अपराध अलग रूप में उत्पन्न हो रहे हैं और आधुनिक और समकालीन प्रौद्योगिकी के ज़रये साइबर क्राइम, फोरेंसिक, नारकोटक और आतंकवाद से निपटना चाहिए।

श्री जेटली ने कहा कि आतंकवाद समाज के लिए एक बुरी अभिशाप है और हर पुलिस अधिकारी यह लड़ाई तैयार रहे। आईपीएस परवबेशनरस अधिकारियों को सलाह देते हुए जेटली ने कहा कि उन्हें जीवन में एक ऐसे चौराहे पर खड़ा होता है और इस समय वह सीधे मार्ग रखते हुए कोई शॉर्टकट के जरिए इससे बाहर निकलने की कोशिश न करें।

उन्होंने कहा कि कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी से किनारा अस्थायी लाभ होता है, भविष्य में नहीं होता। केंद्रीय वित्त मंत्री ने भारत के पहले गृह मंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल की प्रशंसा करते हुए कहा कि आजादी के बाद उन्होंने देश को मजबूत बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

श्री जेटली ने 45 सप्ताह आईपीएस प्रशिक्षण के दौरान काफी प्रदर्शन करने वाले परवबेशनरस ऑफिसर्स को पुरस्कार प्रदान किए। इस मौके पर डायरेक्टर नेशनल पुलिस एकेडेमी श्रीमती अरुणा बहुगुणा ने कहा कि 21 वीं सदी के पुलिस अधिकारियों के लिए विभिन्न अवसरों और प्रौद्योगिकी का पूरा उपयोग करते हुए वह अपने भविष्य को उज्जवल बनाए।

TOPPOPULARRECENT