पुलिस कॉन्स्टेबल ने पेश की मिसाल- ट्रेन से गिरे युवक को बचाने के लिए उसे कंधे पर लादकर डेढ़ किलोमीटर दौड़ा

पुलिस कॉन्स्टेबल ने पेश की मिसाल- ट्रेन से गिरे युवक को बचाने के लिए उसे कंधे पर लादकर डेढ़ किलोमीटर दौड़ा

एक कॉन्स्टेबल ने ट्रेन से गिरे युवक को कंघे पर उठाकर 1.5 किलोमीटर की दूरी तय की जिससे युवक को सही समय पर इलाज मिल सके. होशंगाबाद जिला मुख्यालय से लगभग 60 किलोमीटर दूर शिवपुर के पास ट्रेन से शनिवार सुबह को रेलवे ट्रेक पर गिरे 35 वर्षीय गंभीर रूप से घायल युवक को पुलिस कॉन्स्टेबल लगभग डेढ़ किलोमीटर दूर तक कंधे पर उठाकर ले गए. इसके चलते घायल व्यक्ति को अस्पताल तक वक्त रहते पहुंचाया जा सका.

शिवपुर पुलिस थाने के प्रभारी निरीक्षक सुनील पटेल ने बताया कि सिवनी मालवा के पगढ़ाल रेलवे स्टेशन के पास शनिवार सुबह 9.30 बजे मुम्बई जाने वाली लोकमान्य तिलक एक्सप्रेस ट्रेन से एक युवक के गिरने की सूचना मिली थी. सूचना पर डायल 100 वाहन का चालक राहुल साकल्ले और कॉन्स्टेबल पूनम बिल्लोरे घटनास्थल पर पहुंचे. घायल व्यक्ति की पहचान उत्तर प्रदेश के भदोई जिले के निवासी अजीत (35) के तौर पर हुई है.

उन्होंने बताया कि रेलवे ट्रैक होने के कारण पुलिस वाहन मौके पर नहीं पहुंच सका. इसके बाद कॉन्स्टेबल बिल्लोरे ने घायल युवक को कंधे पर उठाकर लगभग डेढ़ किलोमीटर दूर शिवपुर रेलवे स्टेशन पहुंचाया, यहां से वाहन द्वारा युवक को इलाज के लिए सिवनी मालवा के अस्पताल में भेजा गया. उन्होंने बताया कि युवक की हालत गंभीर होने के कारण उसे बेहतर इलाज के लिये जिला अस्पताल भेज दिया गया है. पटेल ने कहा कि सूचना पर कॉन्स्टेबल बिल्लोरे द्वारा समय पर मदद करने के कारण अजीत को समय पर इलाज मिल सका.पटेल ने बताया कि पुलिस कॉन्स्टेबल बिल्लोरे ओर पुलिस वाहन चालक साकल्ले की कार्य की सराहना की जा रही है.

Top Stories