Friday , September 21 2018

पुलिस को “काले कुत्ते” की तलाश!

उत्तर प्रदेश पुलिस कभी आजम खां की चोरी गई "भैंस" ढूंढ़ती है तो कभी दरोगा को काटने वाले "काले कुत्ते" की तलाश में जुट जाती है। लेकिन रियासत में बढ़ रहे जुर्म को रोक पाने में वह कामयाब साबित नही हो रही है। आजम की भैंस के बाद उप्र पुलिस क

उत्तर प्रदेश पुलिस कभी आजम खां की चोरी गई “भैंस” ढूंढ़ती है तो कभी दरोगा को काटने वाले “काले कुत्ते” की तलाश में जुट जाती है। लेकिन रियासत में बढ़ रहे जुर्म को रोक पाने में वह कामयाब साबित नही हो रही है। आजम की भैंस के बाद उप्र पुलिस को एक ऐसे “काले कुत्ते” की तलाश है, जिसने एक रिटायर्ड दरोगा को काट लिया है।

अखिलेश हुकूमत के कद्दावर वज़ीर आजम खां की चोरी हुई रामपुर से सात भैंसों को बरामद करने की बात अभी पुरानी भी नहीं हुई कि अब बुलंदशहर की पुलिस एक ऐसे “काले कुत्ते” की तलाश में जुट गई है, जिसने एक रिटायर्ड दरोगा को काट लिया है। इस मामले में बकायदा थाने में मुतास्सिरा ने नामालूम काले कुत्ते के खिलाफ गैर मुजरिमाना मामला (एनसीआर) दर्ज कराया है।

पुलिस के सामने सबसे ब़डी चुनौती यह है कि मालिक का नाम भी नामालूम है, ऐसे हालात में काटने वाले कुत्ते की पहचान कैसे की जाएगी सीनीयर पुलिस सुप्रीटेंडेंट उमेश कुमार सिंह का कहना है कि गुलावटी थाने में जुमेरात के रोज़ एक रिटायर्ड दरोगा की तहरीर पर गैर मुजरिमाना मामला (एनसीआर) दफा-289 आईपीसी के तहत शिकायत दर्ज की गई है, जिसमें “काला कुत्ता” के मालिक का नाम नामालूम है। इस वजह से एनसीआर में “कुत्ते” को ही मुल्ज़िम दिखाया गया है, जिसकी तलाश की जा रही है।

एसएसपी ने बताया कि तहरीर के मुताबिक, मुजरिम काला कुत्ता कंजरों का शिकारी कुत्ता है, जिसने रिटायर्ड दरोगा को दो जगह काटा है। पुलिस का कहना है कि मुल्ज़िम कुत्ते की पहचान की जा रही है और जल्द ही उसे गिरफ्तार कर अदालत के सामने पेश किया जाएगा।

अब सवाल यह है कि उत्तर प्रदेश की बिग़डते कानून निज़ाम किसी से छिपा नहीं है, लेकिन पुलिस कभी आजम खां की चोरी गई भैंस ढूंढ़ती है तो अब दरोगा के हमलावर काले कुत्ते की तलाश करने में जुटी है।

TOPPOPULARRECENT