पुलिस ने जमात अहलेहदीस को खिलवत पर जलसे की इजाज़त नहीं दी

पुलिस ने जमात अहलेहदीस को खिलवत पर जलसे की इजाज़त नहीं दी
Click for full image

हैदराबाद 29 अगस्त: पुराने शहर के खिलवत मैदान में जमात अहलेहदीस हैदराबाद के ज़ेरे एहतेमाम जल्सा-ए-आम की इजाज़त देने से पुलिस ने इनकार कर दिया।

शफ़ीक़ आलम ख़ान जमाई सेक्रेटरी जमात अहलेहदीस ने 17 अगस्त को डी सी पी साउथ ज़ोन के दफ़्तर में एक दरख़ास्त दाख़िल करके 29 अगस्त को खिलवत मैदान में जलसे की इजाज़त तलब की थी। पुलिस की तरफ से इजाज़त में ताख़ीर के सबब जमात के अरकान ने हाइकोर्ट में रिट दरख़ास्त दाख़िल करके जलसे के लिए पुलिस को हिदायत देने की गुज़ारिश की थी।

साउथ ज़ोन पुलिस ने अदालत को वाक़िफ़ करवाया कि जलसे की इजाज़त देने पुरअम्न-ओ-ज़बत के लिए मसला हो सकता है। जलसे पर बाज़ मुक़ामी अफ़राद ने एतेराज़ किया है। जस्टिस ए वी सिशा साई ने फ़ैसला सुनाते हुए दरख़ास्त गुज़ार को ये हिदायत दी के वो इजाज़त के लिए दुबारा डी सी पी साउथ ज़ोन से रुजू हूँ।

पुलिस को मुक़र्ररीन की फ़हरिस्त फ़राहम करें डी सी पी को ये हिदायत दी कि दरख़ास्त पर अंदरून एक दिन फ़ैसला करें। डी सी पी साउथ ज़ोन वी सत्यनाराय‌ना ने एक नोट में बताया कि जमात अहलेहदीस की तरफ से साउथ ज़ोन के इलाके शम्मा टॉकीज़ , कालापत्थर , तालाबकट्टा , एस आर टी कॉलोनी , मदीनानगर बी बलॉक , नवाबसाहबकोंटा और मिस्रीगंज फूलबाग में मुबय्यना इश्तिआल अंगेज़ तक़ारीर से बेचैनी पैदा हो गई।

डी सी पी ने बताया कि उन्हें ये इत्तेलाआत मौसूल हुई है के इस जल्सा-ए-आम के इनइक़ाद से इलाके में अमन-ओ-ज़बत को ख़तरा लाहक़ है और एहतेजाज का इमकान है। इंटेलिजेंस की इत्तेलाआत थीं कि ला ऐंड आर्डर का मसला पैदा हो सकता है।

Top Stories