Friday , December 15 2017

पुलिस ने ब्रहम किसान को चीफ़ मिनिस्टर महाराष्ट्रा की रिहायश गाह में दाख़िले से रोक दिया

मुंबई, 10 अप्रेल: महाराष्ट्रा के नायब वज़ीरे आला अजीत पवार ने आबी क़िल्लत पर भूक हड़ताल करने वाले जिस किसान का अपने रिमार्क्स के ज़रिये मज़ाक़‌ उड़ाया था, उस किसान ने जब आज वज़ीरे आला पृथ्वी राज चौहान की सरकारी रिहायश गाह वर्षा में दाख़ि

मुंबई, 10 अप्रेल: महाराष्ट्रा के नायब वज़ीरे आला अजीत पवार ने आबी क़िल्लत पर भूक हड़ताल करने वाले जिस किसान का अपने रिमार्क्स के ज़रिये मज़ाक़‌ उड़ाया था, उस किसान ने जब आज वज़ीरे आला पृथ्वी राज चौहान की सरकारी रिहायश गाह वर्षा में दाख़िल होने की कोशिश की,लेकिन पुलिस ने उस की कोशिश को नाकाम कर दिया। प्रभाकर उर्फ़ भया देशमुख ने इद्दिआ किया कि जब वो वज़ीरे आला की रिहायश गाह में दाख़िल होने की कोशिश कर रहे थे तो पुलिस ने उन्हें और कुछ दीगर किसानों को वहां दाख़िल होने नहीं दिया।

देशमुख ने कहा कि मलबार हल पर वज़ीरे आला की सरकारी रिहायश गाह से उन्हें पुलिस ने अपनी गाड़ियों में डाल कर पुलिस स्टेशन मुंतक़िल कर दिया जबकि वो लोग वहां सिर्फ़ एहितजाजी मुज़ाहिरा करने दाख़िल हुए थे। दरीं असना डिप्टी पुलिस कमिशनर निसार तंबोली ने कहा कि देशमुख को वहां इस लिए दाख़िल होने नहीं दिया गया क्योंकि उस वक़्त वज़ीरे आला बंगला में मौजूद नहीं थे और दूसरे ये कि देशमुख को हिरासत में नहीं लिया गया है।

निसार तंबोली ने अपनी बात जारी रखते हुए कहा कि अगर देशमुख वज़ीरे आला से मिलने का वक़्त तए करलें तो उन्हें यक़ीनन मुलाक़ात की इजाज़त दी जाएगी। बंगले के पास पहले ही दो एहतिजाज जारी हैं लिहाज़ा देशमुख को वहां से हटा लिया गया और पुलिस स्टेशन मुंतक़िल किया गया है उसे गिरफ़्तार नहीं किया गया है। याद रहे कि देशमुख 5 फ़रव‌री से मुंबई के आज़ाद मैदान में भूक हड़ताल पर है।

इस ने इल्ज़ाम आइद करते हुए कहा कि रियासती हुकूमत को ख़ुश्कसाली से मुतास्सिरा अवाम को मुश्किलात का कोई एहसास नहीं है। हम वर्षा पहुंच कर सिर्फ़ एहतिजाज करना चाहते थे,लेकिन पुलिस ने हम सब को चार गाड़ियों में भर कर पुलिस स्टेशन मुंतक़िल कर दिया।

TOPPOPULARRECENT