Monday , December 18 2017

पुलिस ने सुबोधकांत को होटल से भगाया?

रांची 23 जून : कैश फॉर वोट मामले में मेयर इलेक्शन के एक दिन पहले (सात अप्रैल 2013 को) होटल सिटी पैलेस में पुलिस और इनकम टैक्स महकमा के छापे के दौरान एमपी सुबोधकांत सहाय, मेयर रमा खलखो और उनके साथियों को होटल में होने के बावजूद मौके पर नहीं

रांची 23 जून : कैश फॉर वोट मामले में मेयर इलेक्शन के एक दिन पहले (सात अप्रैल 2013 को) होटल सिटी पैलेस में पुलिस और इनकम टैक्स महकमा के छापे के दौरान एमपी सुबोधकांत सहाय, मेयर रमा खलखो और उनके साथियों को होटल में होने के बावजूद मौके पर नहीं रोका गया।

इस मामले में पकड़े गये कांग्रेस लीडर निरंजन शर्मा और सुधीर साहू की जमानत दरख्वास्त खारिज करते हुए अदालत ने यह खदशा ज़ाहिर की है कि छापे के दौरान होटल में मौजूद एमपी सुबोधकांत सहाय समेत कांग्रेस के दीगर कायेदिनों को भागने में पुलिस ने मदद की। झारखंड हाइकोर्ट के जज जस्टिस एचसी मिश्र की तरफ से मंजूर हुक्म में भी इस बात का ज़िक्र है।

छापे के दौरान मौके पर नहीं पकड़ा

हुक्म में कहा गया है कैश फॉर वोट झारखंड का पुर असरार केस है। इसमें मेयर इन्तेखाबात के एक दिन पहले होटल सिटी पैलेस में 21.31 लाख रुपये की बरामदगी हुई थी। इस रक़म का इस्तेमाल मेयर इन्तेखाबात के लिए वोटिंग को मुतासिर करने के लिए किया जाना था।

होटल में हुई बैठक में मेयर ओहदे की उम्मीदवार रमा खलखो, मुकामी एमपी और कांग्रेस पार्टी के दीगर मुकामी लीडर शामिल थे। तमाम लीडर होटल में ही थे। बावजूद इसके उन्हें छापे के दौरान मौके पर नहीं पकड़ा गया या फिर उन्हें भाग जाने दिया गया।

सीसीटीवी ने कैद की थी तसवीर

होटल सिटी पैलेस में लगे सीसीटीवी ने कांग्रेस कायेदिनों को वहां आते-जाते कैमरे में कैद किया था।
सीसीटीवी फुटेज में एमपी सुबोधकांत सहाय, मेयर रमा खलखो, मिस्टर सहाय के भाई सुनील सहाय समेत कांग्रेस के दर्जनों कायेदिनों को होटल के अंदर जाते और बाहर निकलते देखा जा सकता है। फुटेज में रुपये लेकर होटल के अंदर जाते सख्स की पहचान पुलिस कर चुकी है। संतोष नाम के उस सख्स को एमपी और उनके भाई का करीबी माना जाता है।

होटल में पुलिस और इनकम टैक्स महकमा के छापे के दौरान और उसके बाद कांग्रेस के तमाम कायेदिनों और उनके साथियों को होटल से बाहर निकलते कैमरे ने कैद किया था। सुधीर साहू को रुपये के बैग के साथ होने की वज़ह से जेल भेजा गया। निरंजन शर्मा के नाम पर होटल बुक होने की वजह से पुलिस ने उन्हें पकड़ा था।

TOPPOPULARRECENT