Wednesday , December 13 2017

पुलिस, सहाफी और कॉलगर्ल मिलकर चला रहे थे ब्लैकमेलिंग रैकेट!

उत्तर प्रदेश के बरेली में कालगर्ल के साथ अश्लील क्लीपिंग बनाकर लोगों को ब्लैकमेल कराने के रैकेट का भंडाफोड़ हुआ है. दिलचस्प बात यह है कि इस रैकेट के सात मुल्ज़िमों में से चार पुलिस मुलाज़्मीन और एक सहाफी है |

उत्तर प्रदेश के बरेली में कालगर्ल के साथ अश्लील क्लीपिंग बनाकर लोगों को ब्लैकमेल कराने के रैकेट का भंडाफोड़ हुआ है. दिलचस्प बात यह है कि इस रैकेट के सात मुल्ज़िमों में से चार पुलिस मुलाज़्मीन और एक सहाफी है |

इस मामले में सुभाषनगर के साकिन कुलदीप शंखधार ने सीनीयर पुलिस सुप्रीटेंडेंट जे. रविन्द्र गौड़ से मिलकर शिकायत दर्ज कराई थी. उसकी जांच पुलिस अफीसर मंत कुटियाल को सौंपी गई, मामला सही पाए जाने पर कालगर्ल रैकेट चलाने वाले सिपाही असगर अली, धर्मेन्द्र कुमार (गवर्मेंट रेलवे पुलिस में तैनात), रविन्द्र और जयपाल सिंह समेत सात लोगों पर मामला दर्ज कराया गया है |

थाना सुभाषनगर में दर्ज कराए गए मामले में अभिषेक मिश्रा नामी एक मुबय्यना तौर पर सहाफी भी नामजद है | कुटियाल ने बताया कि रैकेट ने शिकायतगुज़ार की क्लीपिंग बनाकर ब्लैकमेल किया और उससे रकम भी छीन लिए सभी मुल्ज़िमों को पकड़ने के लिए फोर्स तैनात किया गया था दो मुल्ज़िम गुड्डू और गुरविन्दर पकड़ में आ गए हैं |

TOPPOPULARRECENT