Monday , December 18 2017

पूंछ में पाकिस्तान की जानिब से जंगबंदी की ख़िलाफ़वर्ज़ी

पाकिस्तानी फ़ौज ने जम्मू-कश्मीर के ज़िला पूंछ में लाईन आफ़ कंट्रोल के इस पार हिंदुस्तानी चौकियों पर फायरिंग की जो 6 अगस्त को उस की फायरिंग में हिंदुस्तान के पाँच सिपाहियों की हलाकत के बाद तक़रीबन रोज़मर्रा का मामूल बन गई है।

पाकिस्तानी फ़ौज ने जम्मू-कश्मीर के ज़िला पूंछ में लाईन आफ़ कंट्रोल के इस पार हिंदुस्तानी चौकियों पर फायरिंग की जो 6 अगस्त को उस की फायरिंग में हिंदुस्तान के पाँच सिपाहियों की हलाकत के बाद तक़रीबन रोज़मर्रा का मामूल बन गई है।

दिफ़ा के तर्जुमान कर्नल आर के पल्टा ने कहा कि पाकिस्तानी फ़ौज ने कल सुबह 7 बजे लाईन आफ़ कंट्रोल पर इलाक़ा पूंछ में छोटे और ख़ुदकार असलाह से हिंदुस्तानी सरहदी चौकियों पर फायरिंग की। ताहम कोई भी ज़ख़मी नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि सरहदी पट्टी की हिफ़ाज़त करने वाले हिंदुस्तानी सिपाहियों ने पूरी ताक़त के साथ इस का जवाब दिया, जिसके नतीजे में फायरिंग का तबादला शुरू होगया, जो 7 बजकर 40 मिनट तक जारी रहा।

कर्नल पल्टा ने कहा कि पाकिस्तानी फ़ौज की फायरिंग में कोई भी हिंदुस्तानी सिपाही ज़ख़्मी नहीं हुआ। पाकिस्तानी फ़ौज ने 6 अगस्त को अपनी फायरिंग में हिंदुस्तान के पाँच सिपाहियों को हलाक कर दिया था, जिस के बाद फायरिंग और जंग बंदी की ख़िलाफ़वर्ज़ी रोज़मर्रा का मामूल बन गया है। पाकिस्तानी जानिब से रवां साल 1 जनवरी से ताहाल जंगबंदी की 80 ख़िलाफ़ वर्ज़ियां की गईं। फ़ौज के सरबराह जनरल बिक्रम सिंह ने पाकिस्तान की जानिब से जंगबंदी के ख़िलाफ़ वर्ज़ियों की सूरत में अपने कमांडर्स को भी जारिहाना तेवर अपनाने की हिदायत की है।

TOPPOPULARRECENT