Sunday , January 21 2018

पूरे मुल्क में हैं करीम के एजेंट

पटना 19 जून : कटिहार मेडिकल कॉलेज के एमडी एए करीम का नेटवर्क पूरे मुल्क में फैला हुआ है। बड़े शहरों से लेकर कश्मीर तक उसने एजेंट बहाल कर रखे थे। इन्हीं एजेंटों के जरिये से वह अपने मेडिकल कॉलेज में तालिब इल्म को एडमिशन लेने के नाम पर ल

पटना 19 जून : कटिहार मेडिकल कॉलेज के एमडी एए करीम का नेटवर्क पूरे मुल्क में फैला हुआ है। बड़े शहरों से लेकर कश्मीर तक उसने एजेंट बहाल कर रखे थे। इन्हीं एजेंटों के जरिये से वह अपने मेडिकल कॉलेज में तालिब इल्म को एडमिशन लेने के नाम पर लाखों-करोड़ों की उगाही करता था। बिहार के तालिब इल्म को कुछ राहत देकर दूसरे रियासत के तालिब इल्म से मोटी रकम वसूलता था।

गुजिस्ता एक दहाई के दौरान उसने सैकड़ों तालिब इल्म का अपने मेडिकल कॉलेज में एडमिशन दिया और उनसे करोड़ों रुपयों की कमाई की। किसी-किसी सेशन में वह सीट से ज्यादा एडमिशन भी ले लेता था। नियम-कानून को ताक पर रख कर करीम अपनी मरजी चलाता था। उसके आगे किसी की नहीं चलती थी।

सनीचर को हुई थी छापेमारी

कटिहार और दीगर प्राइवेट मेडिकल कॉलेजों में अंडर ग्रेजुएट कोर्स (एमबीबीएस) में एडमिशन के गोरखधंधे का पुलिस ने परदाफाश किया था। इम्तेहान के लिए सवाल पेपर को फराहम करा कर लाखों की रकम लेने के इलज़ाम में कटिहार मेडिकल कॉलेज के चेयरमैन शरीक मैनेजिंग डायरेक्टर अहमद अशफाक करीम को उनके आशियाना-दीघा रोड के कटिहार लेन वाक़ेय रिहायिसगाह से गिरफ्तार किया गया था। उनके रिहायिसगाह की तलाशी के दौरान में पुलिस ने ढाई करोड़ नकद बरामद किये थे। इसके अलावा छह अप्रैल को हुए पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स के लिए मुनाक्किद इम्तेहान के सवाल पेपर और जवाब पेपर भी बरामद किया गया था।

कई तालिब इल्म भी मौके पर पकड़े गये, जो एडमिशन के लिए लाखों की रकम लेकर अहमद अशफाक करीम के रिहायिसगाह पर पहुंचे थे। मंगल को पुलिस ने करीम की तिजोरी खोली, तो उसमें से 54 लाख रुपये, 1601 ग्राम सोने के जेवर, चार किलो चांदी के जेवर, एक पिस्टल, 40 कारतूस, एक बंदूक, रूबी मिले थे। करीम के घर से अब तक तीन लाइसेंसी हथियार मिले हैं, जिनमें एक बंदूक, एक पिस्टल व एक राइफल हैं।

TOPPOPULARRECENT