Monday , July 23 2018

पूर्व क्रिकेटर प्रेम भाटिया का निधन, दर्ज था एक अनोखा रिकॉर्ड

भारतीय क्रिकेट इतिहास में दुर्लभ रिकॉर्ड अपने नाम दर्ज करा चुके प्रेम भाटिया का निधन हो गया है। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के इस क्रिकेटर के नाम अपनी टीम की तरफ से 12वें खिलाड़ी के रूप में बल्लेबाजी करने का रिकॉर्ड दर्ज है। 78 साल के भाटिया ने अपनी आखिरी सांस दिल्ली में ली। साल 1960 में ईरानी कप में शेष भारत और रणजी चैंपियंस मुंबई के बीच खेले गए एक मैच में उन्होंने 12वें खिलाड़ी के रूप में बल्लेबाजी की थी। दरअसल तब 48 वर्ष की उम्र में शेष भारत की कप्तानी कर रहे लाला अमरनाथ दोनों पारियों में बल्लेबाजी करने में असमर्थ थे। इस दौरान 12वें बल्लेबाज के रूप में प्रेम भाटिया को क्रिकेट मैदान पर बुलाया गया। तब लाला अमरनाथ मैदान पर गेंदबाजी और फील्डिंग ही कर सके।

हालांकि तब यह मैच आखिर में अपनी पहली पारी के दम बोम्बे की टीम ने जीत लिया था। बोम्बे की ही टीम ईरानी कप की पहली विजेता बनकर उभरी। गौरतलब है कि प्रेम भाटिया 11 वर्ष तक दिल्ली रणजी टीम का हिस्सा रहे। उन्होंने अपने 55 मैचों में 31.31 की औसत से 2543 रन बनाए। इस दौरान उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर 151 रहा। भाटिया के नाम छह शतक और 12 अर्धशतक भी हैं।

जानकारी के लिए बता दें कि ईरानी कप की शुरुआत साल 1960 में हुई। इसका 56वां संस्करण करुण नायर के नेतृत्व वाली शेष भारत फैज फजल के नेतृत्व वाली विदर्भ के बीच हाल के दिनों में खेला गया। यह खिताब पहली बार विदर्भ ने जीता है। चालीस साल के वसीम जाफर मैच ऑफ दा मैच रहे। जिनकी 286 रनों की पारी दम पर विदर्भ पहली पारी में 800 बनाने में कामयाब रही।

TOPPOPULARRECENT