Saturday , January 20 2018

पूर्व सैनिकों के लिए कॉलोनी बनाने के विरोध में कश्मीर में बंद से जनजीवन प्रभावित

श्रीनगर। कश्मीर में पूर्व सैनिकों के लिए कॉलोनी बनाने की योजना के विरोध में घाटी में गुरुवार को बंद से जनजीवन प्रभावित रहा। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि आज कश्मीर में कहीं भी बंद नहीं होगा। संवेदनशील क्षेत्रों में शांति बनाए रखने के लिए सुरक्षाबलों की अतिरिक्त तैनाती की गई है।

 

 

 

प्रशासन ने बुधवार को अलागववादी नेताओं मीरवाइज उमर फारुख और मुहम्मद यासीन मलिक को नजरबंद कर दिया था। मीरवाइज उमर को श्रीनगर में उनके आवास में नजरबंद कर दिया गया, जबकि मलिक को उनके पार्टी कार्यालय से गिरफ्तार किया गया और कोठीबाग पुलिस थाने ले जाया गया। वरिष्ठ अलगाववादी नेता सैयद अली गिलानी को भी हैदरपोरा में उनके निवास स्थान पर नजरबंद किया गया।

 

 

 
अलगाववादी नेताओं ने सैनिक कॉलोनी बनाने के सरकार के फैसले के खिलाफ घाटी में बंद का आह्वान किया है। उनका आरोप है कि सैनिक कॉलोनी बसाने के पीछे मंशा मुसलमान बहुल घाटी में जनसांख्यिकीय बदलाव लाने की है। हालाँकि, राज्य सरकार ने यह कहते हुए असंतोष को दूर करने का प्रयास किया कि राज्य के स्थानीय बाशिंदे ही इस कॉलोनी का हिस्सा बन सकेंगे।

TOPPOPULARRECENT