पैग़ंबर इस्लाम हज़रत मुहम्मद(स०) की सीरत से राम जेठमलानी बेहद मुतास्सिर

पैग़ंबर इस्लाम हज़रत मुहम्मद(स०) की सीरत से राम जेठमलानी बेहद मुतास्सिर
Click for full image

हैदराबाद 02 अगस्त : नायब सदर जमहूरीया हिंद हामिद अंसारी ने कहा कि हिंदू मुस्लिम इत्तेहाद के बग़ैर मुल्क में अमन-ओ-अमान मुम्किन नहीं है। ईदैन और तहवारें आपस में मेल मीलाप का बेहतरीन प्लेटफार्म हैं। मशहूर क़ानूनदां राम जेठमलानी ने कहा कि पैग़ंबर इस्लाम हज़रत मुहम्मद(स०)की सीरत ने उन्हें बेहद मुतास्सिर किया है। ऑल इंडिया माइनॉरिटीस फ़ोरम-ओ-इंडिया अरब फ्रेंडशिप फाउंडेशन की तरफ से दिल्ली में यादगार ईद-मिलन तक़रीब का एहतेमाम किया गया।

दोनों तन्ज़ीमों के बानी सदर जाबिर पटेल फ़र्ज़ंद साबिर पटेल ने इस की सदारत की। इस तक़रीब में मुख़्तलिफ़ सियासी जमातों के क़ाइदीन मर्कज़ी वुज़रा , सफ़ीरीन ममलकत, मशाइख़ीन-ओ-उलमाए किराम के अलावा मुख़्तलिफ़ शोबों से ताल्लुक़ रखने वाले शख़्सियतों ने शिरकत की। नायब सदर जमहूरीया हामिद अंसारी ने ईद-मिलन तक़रीब से ख़िताब करते हुए कहा कि हिन्दुस्तान तमाम मज़ाहिबों, तबक़ात और मुख़्तलिफ़ मकतब फ़िक्र रखने वाले अवाम का गुलदस्ता है।

हिंदू मुस्लिम इत्तेहाद की तक़रीब ने उन्हें मुतास्सिर किया है। हिंदू मुस्लिम इत्तेहाद के बग़ैर तरक़्क़ी अमन-ओ-अमान मुम्किन नहीं है। एसी तक़ारीब मुल्क के तमाम शहरों में मुनाक़िद होनी चाहीए ताकि आपसी मेल मिलाप में इज़ाफ़ा हो सके। मशहूर क़ानूनदां राम जेठमलानी ने जज़बाती तक़रीर करते हुए कहा कि वो हिंदू घराने में पैदा हुए मगर मज़हब इस्लाम का बहुत ज़्यादा एहतेराम करते हैं और पैग़ंबर इस्लाम हज़रत मुहम्मद(स०) की सीरत से बेहद मुतास्सिर हैं।

उनकी ज़िंदगी दुनिया के लिए मिसाली नमूना है। पैग़ंबर इस्लाम ने दुनिया को अमन-ओ-अमान, भाई चारगी , इत्तेहाद एक दूसरे का एहतेराम करने का पैग़ाम दिया है जिस पर अमल करने की ज़रूरत है। इस तक़रीब में सदर कांग्रेस सोनीया गांधी के पैग़ाम मुबारकबाद को पढ़ कर सुनाया गया। साबिक़ मर्कज़ी वज़ीर मुरली मनोहर जोशी ने कहा कि ये तक़रीब ईद मिलाप में ईद-मिलन हिंदू मुस्लिम इत्तेहाद नुमायां तौर पर नज़र आरहा है।

साबिक़ मर्कज़ी वज़ीर-ए-क़लीयाती उमूर नज्म हेपतुल्ला ने मुसलमानों को ईद की मुबारकबाद पेश की। रियासती वज़ीर-ए-दाख़िला तेलंगाना एन नरसिम्हा रेड्डी ने और साबिक़ गवर्नर अज़ीज़ क़ुरैशी ने क़ौमी इत्तेहाद को वक़्त का अहम तक़ाज़ा क़रार दिया और कहा कि हिन्दुस्तान एसा गुलिस्तान है जहां हर किस्म के फूल खुलते हैं जो हिंदू मुस्लिम , सिख और ईसाई कहलाते हैं।
इस मौके पर मर्कज़ी वुज़रा विजय गोविल, सुरेश प्रभु , हर्षवर्धन , विजय सिंपल , राजीव प्रताप रूडी , महेंद्र नाथ पांडे , संजय बालियँ , हरी भाई चौधरी, सदानंद गौड़ा अरोपीनदर शाइर , सदर नेशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी शरद पवार क़ौमी सेक्रेटरी जनरल सीताराम यचोरी , लोक सभा के क़ाइद मुक़न्निना जय डीयू केसी त्यागी और् दुसरे मौजूद थे।

Top Stories