Thursday , September 20 2018

पोप का जहन्नुम के अस्तित्व से इनकार! घंटे भर बाद संत पीटर बेसिलिका के छत से हुई प्लास्टर की बारिश

वेटिकन : वेटिकन के संत पीटरर्स बेसिलिका के छत से प्लास्टर गिर जाने के बाद से उसे बंद करना पड़ा है. पोप फ्रांसिस द्वारा ‘नरक’ अस्तित्व में नहीं है’ घोषित करने के लिए आरोप लगाया है और उसके कुछ ही घंटों के बाद यह हादसा हुआ. छत से प्लास्टर के टुकड़े मुख्य प्रवेश द्वार के दायरे में माइकलएंजेलो की प्रसिद्ध पीटा प्रतिमा के पास पूजा करने वालों पर बारिश हुई, हालांकि कोई भी घायल नहीं हुआ।

एक वेटिकन के प्रवक्ता ने कहा कि बेसिलिका के प्रभावित क्षेत्रों को बंद कर दिया गया है बाकि हिस्सा खुला है। लेकिन वेटिकन ने इस नाटकीय धार्मिक बात से इनकार करते हुए कहा कि नास्तिक रिपोर्टर युजिनो स्कॅफारी ने अपने शब्दों से इस घटना को तोड़ मरोड़ कर पेश किया है. पोप ने ऐसा कुछ भी नहीं कहा है. कैथोलिक शिक्षण यह कहता है कि ‘मौत के तुरंत बाद उन लोगों की आत्माएं जो नश्वर पाप की स्थिति में मरते हैं नरक में उतरते हैं’ 93 वर्षीय स्कॉल्फारी पोप फ्रांसिस के पांचवे साक्षात्कार में ला रिपब्लिका में प्रकाशित हुए लेख में, उन्होंने पूछा कि उनके शरीर की मृत्यु के बाद ‘बुरी आत्माओं’ का क्या हुआ?

पोप ने जवाब दिया ‘उन्हें दंडित नहीं किया जाता है, जो पश्चाताप करते हैं, वे गॉड की माफी प्राप्त करते हैं, लेकिन जो पश्चाताप नहीं करते हैं उन्हें माफ नहीं किया जा सकता,’. ‘कहीं नरक नहीं है, पापी आत्माएं गायब हो जाते हैं।’ (‘There is no hell, there is the disappearance of sinful souls.’) वेटिकन ने गुरुवार को कहा कि इटालियन पत्रकार और पोप की एक निजी बैठक थी लेकिन उन्होंने दावा किया कि ‘उन्हें कोई साक्षात्कार नहीं दिए’

पवित्र सप्ताह में सेंट पीटर की यात्रा करने वाले तीर्थयात्रियों और पर्यटकों की बाढ़ देखी जाती है, जो पोप फ्रांसिस के समारोहों में भाग लेते हैं, जो सेंट पीटर के स्क्वायर में ईस्टर रविवार के समारोहों से बाहर हैं।

TOPPOPULARRECENT