Tuesday , January 23 2018

पोप फ़्रांसिस ने धुले हिन्दुवों-मुसलमानों के पैर, क़ायम की भाईचारे की मिसाल

पोप फ़्रांसिस शरणनार्थियों के पैर चूमते हुए. उन्होंने अलग अलग धर्म के शरणनार्थियों के पैर धुले और उन्हें चूमा.

वैटिकन सिटी/ रोम: एक ओर जहाँ पूरी दुनिया लड़ाई झगडे से जूझ रही है और आये दिन कोई ना कोई लीडर टकराव की बात करता रहता है, ऐसे में पूरे कैथोलिक समाज के धर्मगुरु पोप फ़्रांसिस ने भाईचारे की अनूठी मिसाल पेश की है. उन्होंने हिन्दू, मुसलमान और इसाई शरणनार्थियों के पैर धुले, इतना ही नहीं उन्होंने पैरों को साफ़ करने के साथ साथ उन्हें चूमा भी. वैटिकन के मुताबिक़ पोप ने चार औरतों और आठ आदमियों के पैर धुले.औरतों में एक इटैलियन कैथोलिक और तीन इरीट्रियन कॉप्टिक क्रिश्चियन माइग्रेंट थीं. वहीं, आठ आदमियों में चार नाइजीरिया के कैथोलिक, माली, सीरिया, पाकिस्तान से तीन मुस्लिम और भारत का एक हिंदू शख्स भी था.

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

इस तरह की चीज़ों से समाज में मेल मिलाप की चीज़ें बढती हैं और लोगों को भी चाहिए कि लड़ाई झगडे की बात की चर्चा कम और मोहब्बत की चर्चाएँ ज़्यादा करें.

TOPPOPULARRECENT